×

Corona संकट में भी घटिया राजनीति कर रही Congress, 130 करोड़ भारतीय संगठित: शाह

Corona संकट में भी घटिया राजनीति कर रही Congress, 130 करोड़ भारतीय संगठित: शाह

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) के खतरे को देखते हुए पूरे देश को 21 दिनों के लिए लॉकडाउन (Lockdown) पर रखा गया है। इस सब के बीच देश में राजनीतिक बयानबाजी का दौर भी जारी है। इसी सिलसिले में केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने देश के प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस (Congress) पर कोरोना संकट के दौरान ओछी राजनीति करने का आरोप लगाया है। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कोरोना वायरस से निपटने के लिए उठाए जा रहे कदमों की राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रशंसा हो रही है। उन्होंने आगे कहा, ‘कोरोना को हराने के लिए 130 करोड़ भारतीय एकजुट हैं, फिर भी कांग्रेस घटिया राजनीति कर रही।’ उन्होंने कहा कि इस समय कांग्रेस राष्ट्रहित में सोचे और जनता को गुमराह करना बंद करे।


गौरतलब है कि कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच गुरुवार को कांग्रेस वर्किंग कमिटी (CWC) की बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई। इस दौरान पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने कोरोना वायरस को अभूतपूर्व स्वास्थ्य और मानवीय संकट बताते हुए कहा कि यह हमारे सामने डराने वाली चुनौती है, लेकिन इससे पार पाने का हमारा संकल्प अधिक बड़ा होना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि खराब ढंग से लॉकडाउन लागू किए जाने की वजह से लाखों श्रमिकों को तकलीफ उठानी पड़ी है। इस पर केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि यह कांग्रेस की पुरानी आदत रही है। जब भी राष्ट्रहित की बात आई है या देश की एकजुटता की बात आई है तो उसने हमेशा से एक अलग राह पकड़ी है। अपने निहित स्वार्थों की पूर्ति के लिए उसने सदैव ही जनता को गुमराह कर देश और समाज को बांटने की राजनीति करने का प्रयास किया है। इसकी जितनी भी निंदा की जाए कम है। उन्होंने सवाल किया कि आखिर कांग्रेस कब अपनी स्वार्थ पूर्ण राजनीति के ऊपर राष्ट्रहित को तरजीह देगी?

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है