Covid-19 Update

2,21,826
मामले (हिमाचल)
2,16,750
मरीज ठीक हुए
3,711
मौत
34,108,996
मामले (भारत)
242,470,657
मामले (दुनिया)

बाबा बालक नाथ मंदिर में चैत्र मेलों में श्रद्धालुओं ने दिल खोल दिया दान, जाने कितना चढ़ा चढ़ावा

पंजाब, हरियाणा सहित देश विदेश के श्रद्धालुओं ने नवाया शीश

बाबा बालक नाथ मंदिर में चैत्र मेलों में श्रद्धालुओं ने दिल खोल दिया दान, जाने कितना चढ़ा चढ़ावा

- Advertisement -

हमीरपुर। हिमाचल के प्रसिद्ध शक्पिीठ बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्ध (Baba Balak Nath Temple Deotsidh) में चैत्र मेले के दौरान श्रद्धालुओं ने दिल खोल कर दान दिया है। दियोटसिद्ध मंदिर में तीन सप्ताह में श्रद्धालुओं द्वारा 2 करोड़ 86 लाख 30 हजार 630 रुपए का चढ़ावा चढ़ाया गया है। इसमें से 1 करोड़ 99 लाख 59 हजार 724 रुपए का चढ़ावा चढ़ाया गया है और 86 लाख 70 हजार 906 रुपए दान के रूप में प्राप्त हुए हैं। इसके अतिरिक्त श्रद्धालुओं (Devotees) द्वारा विदेशी मुद्रा के रूप में सोना 41,500 ग्राम, चांदी 1 किलो 361 ग्राम, इग्लैंड़ पौंड 155, यूएसए डालर 1650, कनाड़ा डालर 365, यूएई 2284, यूरो 995, साऊदी 15, कतर 67, कुवेत 9 सहित अन्य विदेशी मुद्रा बाबाजी के चरणों में चढ़ाई गई है।

यह भी पढ़ें: Himachal : बाबा बालक नाथ मंदिर में चैत्र मास मेलों का आगाज, पहले दिन हजारों ने टेका माथा

 

बता दें कि 14 मार्च से चार अप्रैल तक लाखों श्रद्धालुओं ने बाबा जी दर्शन किए। इस दौरान पंजाब, हरियाणा, दिल्ली सहित देश के कोने-कोने से भक्त यहां पहुंचे और बाबा जी के दर्शन किए। हालांकि कोरोना (Corona) के चलते श्रद्धालुओं का आंकड़ा कुछ कम जरूर रहा। फिर भी पंजाब, हरियाणा व देश विदेश के श्रद्धालुओं ने कोविड नियमों का पालन करते हुए मंदिर में दर्शन किए। कोविड-19 को देखते हुए मंदिर न्यास प्रशासन द्वारा मास्क न लगाने पर जुर्माना की अनाउंसमेंट करवाई जा रही है। मंदिर न्यास प्रशासन द्वारा एसओपी (SOP) के तहत ही श्रद्धालुओं को बाबाजी के दर्शन करवाए गए। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए मंदिर को सुबह 5 बजे लेकर रात 9 बजे तक खुला रखा जा रहा है। न्यास प्रशासन द्वारा मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं का हर सुविधा प्रदान करने का प्रयास किया जा रहा है। वहींए कोरोना संकट के मद्देनजर इस बार मेले के लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं। मंदिर परिसर के आस पास के सभी मुख्य प्रवेश स्थलों पर थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था की रही है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है