Covid-19 Update

56,802
मामले (हिमाचल)
55,071
मरीज ठीक हुए
951
मौत
10,541,760
मामले (भारत)
93,843,671
मामले (दुनिया)

आनंद Speak : चुनाव घोषणापत्र अकेले Chairman नहीं बनाता, शंकाएं करेंगे दूर

आनंद Speak : चुनाव घोषणापत्र अकेले Chairman नहीं बनाता, शंकाएं करेंगे दूर

- Advertisement -

शिमला। राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा ने कहा है कि हिमाचल में पिछली मर्तबा चुनावी घोषणा पत्र के अनुरूप अगर कोई वादे पूरे नहीं हो पाए हैं तो उन्हें चर्चा के बाद अमलीजामा पहनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि चुनावी घोषणा पत्र पर किसी भी तरह की चर्चा केवल संगठन के भीतर ही हो सकती है।

  • कहा, घोषणा पत्र पर चर्चा केवल संगठन के भीतर ही हो सकती है
  • अगर कोई वादे नहीं हुए हैं पूरे तो चर्चा कर पहनाएंगे अमलीजामा

उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि घोषणा पत्र अकेले चेयरमैन नहीं बनाता है बल्कि पार्टी बनाती है, हो सकता है कि कोई शंकाएं हो उन्हें बैठकर सुलझाया जा सकता है। आनंद ने यह बातें पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में कही। वह बीते कल से शिमला में ही हैं। आज वह पत्रकारों से बातचीत करने पहुंचे थे। याद रहे कि चुनावी घोषणा पत्र में बेरोजगारी भत्ते को लेकर परिवहन मंत्री जीएस बाली सरकार के साथ टकराव के मूड में आ चुके हैं। उनका कहना है कि बेरोजगारी भत्ता हमारे चुनावी घोषणा पत्र का हिस्सा था इसलिए इसे देना ही होगा, जबकि सीएम वीरभद्र सिंह इससे साफ पल्ला झाड़ते हुए कह चुके हैं कि प्रदेश की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं है कि बेरोजगारी भत्ता दिया जा सके।

खैर, इस सबसे इतर आनंद शर्मा ने पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी नेताओं को संयम से बोलने और सम्मानजनक भाषा का उपयोग करने की नसीहत दी है। उन्होंने आरोप लगाए की मोदी विभिन्न राज्यों में विस चुनावों के दौरान जिस प्रकार की भाषा का प्रयोग कर रहे हैं वह पीएम पद की गरिमा के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि सेना के उपलब्धियों को बीजेपी चुनावों में वोट लेने के लिए भुना रही है, ऐसा कभी पहले नहीं हुआ। आनंद शर्मा ने कहा कि न केवल सेना बल्कि 8 नवंबर के बाद विमुद्रीकरण को भी इस तरह से दिखाया जा रहा है कि इससे फायदा होगा, लेकिन विमुद्रीकरण से जो व्यापार एवं बाजार को नुकसान हुआ उसे अभी तक जनता को नहीं बताया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विदेशों में आयत भी घटा है और देश की आर्थिकी को भारी नुकसान हुआ है। उन्होंने आरोप लगाए यदि उनकी सरकारी की इन कमियों को कोई उजागर करने का प्रयास करता है तो उसे वे अपना दुश्मन मानते हैं। बीएमसी के चुनावों के नतीजों के बारे में आनंद शर्मा ने कहा कि यह समझ में नहीं आता कि बीजेपी किस तरह की ख़ुशी में है जबकि शिवसेना एक बड़ी पार्टी बनकर खड़ी हुई है। उन्होंने कांग्रेस की हार को स्वीकार करते हुए कहा कि बीजेपी तीसरे पायदान पर खड़ी हुई है। हमें उस दिन का इंतजार है जिस दिन पीएम मोदी हर वर्ष दो करोड़ नौकरियां जनता को देंगे।

मोदी से सवाल, कहां से आए चुनाव के लिए 3 हजार करोड़
पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा ने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा है कि नोटबंदी के बाद देश में जहां लोग पैसे के लिए लाइन में लगे हैं, वहीं बीजेपी ने उत्तर प्रदेश के चुनाव के लिए अपना 3 हजार करोड़ रुपये का बजट रखा है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने उत्तर प्रदेश ही नहीं, गोवा, पंजाब, उत्तराखंड और मणिपुर के लिए चुनाव के लिए पैसे का पूरा प्रबंध किया। उन्होंने मोदी से पूछा कि उनके पास इतना धन कहां से आया है। उत्तर प्रदेश में जितना पैसा चुनाव में बीजेपी लगा रही है, उतना पैसा वहां के सभी विपक्षी दलों के पास भी नहीं है। उन्होंने कहा कि देश को तो कैश लैस बनाने की बात कही जा रही है और प्रचार के लिए पैसे बहाए जा रहे हैं। शर्मा ने पूछा कि बीजेपी के पास प्रचार के लिए प्रचंड साधन कहां से आए।

Watch Video:

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है