Covid-19 Update

1,98,877
मामले (हिमाचल)
1,91,041
मरीज ठीक हुए
3,382
मौत
29,548,012
मामले (भारत)
176,842,131
मामले (दुनिया)
×

जानिए, हिमाचल में दो दिन क्यों बंद रहेंगे आंगनबाड़ी केंद्र

जानिए, हिमाचल में दो दिन क्यों बंद रहेंगे आंगनबाड़ी केंद्र

- Advertisement -

शिमला। आंगनबाड़ी वर्कर्स एवं हेल्पर्स यूनियन संबंधित सीटू का दो दिवसीय राज्य सम्मेलन शिमला के कालीबाड़ी हॉल में शुरू हुआ। इसमें प्रदेश भर के सभी जिलों से लगभग 250 कर्मियों ने भाग लिया। सम्मेलन में केंद्र की मोदी सरकार पर आईसीडीएस परियोजना को खत्म करने की साजिश रचने का आरोप लगाया व इसके खिलाफ निर्णायक लड़ाई का आह्वान किया गया।
आंगनबाड़ी कर्मियों के खिलाफ केंद्र सरकार के रवैये को लेकर यूनियन ने 8-9 जनवरी 2019 को दो दिवसीय देशव्यापी हड़ताल का निर्णय लिया है। इन दोनों दिनों में पूरे देश के लाखों आंगनबाड़ी केंद्र बंद रहेंगे व 26 लाख आंगनबाड़ी कर्मी सड़कों पर उतरेंगे।
सम्मेलन में आंगनबाड़ी वर्कर्स एवं हेल्पर्स की राष्ट्रीय फैडरेशन की राष्ट्रीय महासचिव एआर सिंधु, यूनियन राज्याध्यक्ष खिमी भंडारी, राज्य महासचिव राजकुमारी, सीटू राष्ट्रीय सचिव डॉ. कश्मीर ठाकुर, राज्य महासचिव प्रेम गौतम, राज्य सचिव विजेंद्र मेहरा, राज्य कोषाध्यक्ष रमाकांत मिश्रा, भूपेंद्र सिंह व राजेश ठाकुर विशेष रूप से शामिल रहे। सम्मेलन का उद्घाटन राष्ट्रीय महासचिव एआर सिंधु ने किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान केंद्र सरकार ने आईसीडीएस के बजट में लगभग आधी कटौती कर दी है। केंद्र सरकार इस परियोजना का निजीकरण कर रही है व आंगनबाड़ी को वेदांता जैसी कंपनियों के हवाले किया जा रहा है।
देश भर में कार्यरत 26 लाख आंगनबाड़ी कर्मियों के भारी शोषण से मोदी सरकार के नारी उत्थान व महिला सशक्तिकरण के नारों व दावों की पोल खुल गई है। यूनियन राज्य अध्यक्ष खीमी भंडारी ने कहा है कि राज्य सम्मेलन में भविष्य के आंदोलनों की रूपरेखा तय की जाएगी। उन्होंने कहा है कि केंद्र और प्रदेश सरकारें लगातार आंगनबाड़ी विरोधी नीतियां अपना रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने प्री नर्सरी को प्राथमिक स्कूलों में चलाने की अधिसूचना जारी करके आंगनबाड़ी कर्मियों के रोजगार पर हमला किया है। इसके खिलाफ आंगनबाड़ी कर्मी आंदोलन तेज़ करेंगे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है