Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

शराबी पति से तंग आकर कर दिया Murder, 2 दिन तक कमरे में छिपाई Dead Body

शराबी पति से तंग आकर कर दिया Murder, 2 दिन तक कमरे में छिपाई Dead Body

- Advertisement -

अंतिम संस्कार के समय एक व्यक्ति ने शक के आधार पर बुलाई पुलिस

नई दिल्ली।राजधानी में शराबी पति से परेशान होकर एक महिला ने पहले तो उसकी हत्या कर डाली फिर उसकी लाश को दो दिन तक अपने कमरे में छिपाए रखा। महिला ने लोगों से कहा कि उसके पति की हार्टअटैक से मौत हो गई है। पहले तो किसी को कानोंकान खबर तक नहीं हुई, लेकिन अंतिम संस्कार के दौरान एक शख्स को शक हुआ और उसने पुलिस को सूचना दे दी।


जांच के बाद पुलिस को सच का पता लगा और आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया गया। जानकारी के मुताबिक, दिल्ली के कापसहेड़ा इलाके में आरोपी शिल्पी अधिकारी (32) अपने पति नीतीश के साथ किराए के एक कमरे में रहती थी। शिल्पी एक बैंक में साफ-सफाई का काम करती है। शिल्पी का पति अक्सर शराब पीकर उसके साथ मारपीट करता था। इस सब से तंग आकर आरोपी महिला ने अपने पति को मारने का प्लान बनाया। सोमवार रात उसने नीतीश को पार्टी देने की बात कहकर शराब की बोतल दी। काफी शराब पीने के बाद नीतीश नशे में ही सो गया। इस बात का फायदा उठाते हुए आरोपी पत्नी ने गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। इस वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी महिला ने बिना किसी को खबर लगे नीतीश की लाश को 48 घंटे अपने साथ रखा।


दो दिन बाद किया हार्ट अटैक से मौत का ड्रामा

महिला को दो दिन बाद भी जब समझ नहीं आया कि लाश को कहां छिपाए तो उसने कमरे में जोर-जोर से रोने का नाटक शुरू कर दिया। रोने की आवाज सुनकर पड़ोसी पहुंचे तो उसने कहा कि रात में नीतीश की हार्ट अटैक से मौत हो गई। शिल्पी की झूठी बात मानकर पड़ोसी नीतीश के अंतिम संस्कार की तैयारी करने लगे। कुछ समय बाद नीतीश के शव को लोग शमशान घाट लेकर पहुंचे वहां एक व्यक्ति की नजर नीतीश के गले पर पड़ी तो उसने देखा कि वहां गहरे जख्म का निशान था। उसे इस मामले में शक हुआ और उसने पुलिस को सूचना दी। चिता जलने से कुछ समय पहले ही पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में ले लिया। इसके बाद पोस्टमार्टम में मौत की असली वजह सामने आ गई। पुलिस ने आरोपी महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है