सुंदरनगर: घूस लेते पकड़े गए एचएएस अधिकारी पर लगा एक और गंभीर आरोप, जानें 

मंत्री के चहेते को आवंटित कर दिया नंबर 

सुंदरनगर: घूस लेते पकड़े गए एचएएस अधिकारी पर लगा एक और गंभीर आरोप, जानें 

- Advertisement -

सुंदरनगर। विजिलेंस और एंटी क्रप्शन ब्यूरो की टीम द्वारा घूस लेते पकड़े गए एचएएस अधिकारी हरी सिंह राणा के खिलाफ एक और गंभीर आरोप लगा है। ताजा मामले में सुंदरनगर उपमंडल के चांगर निवासी अश्वनी सैनी ने आरोप लगाते हुए कहा है कि 6 वर्ष पहले उन्होंने एक नया वाहन खरीदा था और इसके पंजीकरण के लिए सुंदरनगर एसडीएम व निर्देशक परिवहन को नई सीरीज जारी कर 0001 ‘वाईस नंबर के लिए आवेदन किया था। इस पर प्रदेश के परिवहन विभाग ने एचपी-31 डी की नई सीरीज जारी कर दी। लेकिन वर्ष 2013 के तत्कालीन एसडीएम सुंदरनगर एचएस राणा ने मंडी जिला के एक मंत्री के कहने पर उनके आवेदन को नजरअंदाज करते हुए उक्त नंबर किसी और को आवंटित कर दिया था।
अश्वनी सैनी का आरोप है कि एचपी-31 डी की नई सीरीज उनके बार-बार आवेदन करने पर ही जारी हुई थी और इसके उनके पास पूरे प्रमाण भी है। उन्होंने कहा कि उस समय एचएस राणा ने सरकार के पहले आओ-पहले पाओ नियम की अनदेखी करते हुए मात्र किसी मंत्री को खुश करने के लिए नियमों का उल्लंघन करते हुए चहेते को नंबर आवंटित कर दिया था। उन्होंने कहा कि उस समय सुंदरनगर के एसडीएम एचएस राणा व प्रदेश के डायरेक्टर परिवहन को उनके द्वारा बार-बार आवेदन किए जाने पर ही नई सीरीज एचपी-31 डी जारी हुई थी। लेकिन तत्कालीन एसडीएम हरी सिंह राणा ने किसी मंत्री के चहेते को एचपी 31-डी-0001 नंबर अलॉट करने के चक्कर में उनके आवेदन को जानबूझ कर नजरअंदाज करते रहे।
उन्होंने कहा कि उस समय कार्यालय के तमाम कर्मचारियों ने भी एसडीएम एचएस राणा को पिछले लंबे समय से उनके मनपसंद नंबर के लिए किए गए आवेदन का लंबित पड़े रहने से अवगत करवाया गया था। लेकिन एचएस राणा के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी और मनमानी करते हुए नंबर मंत्री के चहेते को आवंटित कर दिया।
उन्होंने कहा कि इसके बाद वर्ष 2013 में उन्होंने एसडीएम सुंदरनगर,एसडीएम मंडी,एसडीएम देहरा, अलॉट एचपी 31-डी-0001 नंबर वाले नेरचौक निवासी सहित 2 अन्य (सचिव व निर्देशक परिवहन) को प्रदेश उच्च न्यायालय में पार्टी बनाकर केस दायर किया गया था। उन्होंने कहा की वे जल्द ही मामले को लेकर एक बार फिर उच्च नायालय और विजिलेंस के साथ जांच की मांग करने जा रहे है ताकि पूर्व एसडीएम के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए सब्सक्राइब करें हिमाचल अभी अभी न्यूज अलर्ट

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है