×

Well Done: सेना में Lieutenant बनी डोल की शिल्पा राव

Well Done: सेना में Lieutenant बनी डोल की शिल्पा राव

- Advertisement -

वी कुमार/सरकाघाट।  उपमंडल की एक और बेटी ने अपने माता -पिता और क्षेत्र का नाम रोशन किया है। फतेहपुर पंचायत के डोल गांव की रहने वाली शिल्पा राव ने भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बनकर अपना मुकाम  हासिल किया है। शिल्पा ने अपनी जमा दो की पढ़ाई मेडिकल ग्रुप में  राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला गोहर से की है, जहां उनकी माता पूनम राव प्रदेश पुलिस सेवा में कार्यरत थीं। शिल्पा ने उसके बाद इंटरनेशनल कॉलेज ऑफ नर्सिंग बड़डुशाह से बीएससी नर्सिंग की परीक्षा गोल्ड मैडल ले कर पास की थी और वर्तमान में शिमला स्थित आईजीएमसी मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल में स्टाफ नर्स के पद पर तैनात है। इनके पिता तिलक राज राव का अपना निजी व्यवसाय है और भाई भारतीय सेना में डीआरडीओ में जूनियर साइंटिस्ट के पद पर नियुक्त हैं। शिल्पा ने राष्ट्रीय स्तर की नम्बर माह में लखनऊ में हुई परीक्षा  में प्रथम प्रयास में ही पूरे देश में 12 वें स्थान पर रह कर पास की है और अब वह आठ फरवरी को अहमदाबाद स्थित सेना की कमान में अपनी ज्वाइनिंग देंगी।


  • आठ फरवरी को अहमदाबाद स्थित सेना की कमान में ज्वाइनिंग देंगी

शिल्पा का कहना है कि सेना में जाने की उसको अपने भाई राहुल राव और दादा लुदेर सिंह से मिली थी जो हमेशा उसका उत्साह बढ़ाते रहते थे। अपने भविष्य की योजनाओं के बारे में शिल्पा ने बताया कि सेना से अनुमति मिलते ही  एमएससी नर्सिंग करना चाहेगी।

कंचन मिल्ट्री नर्सिंग सर्विस में चयनित, बनी लेफ्टिनेंट

मंडी। जिले के उपमंडल सरकाघाट की कंचन ठाकुर ने शॉर्ट सर्विस कमीशन 2017 में एक बड़ी उपलब्धि हासिल करते हुए मिल्ट्री नर्सिंग सर्विस की परीक्षा का उत्तीर्ण किया है। अब वह लेफ्टिनेंट के पद पर सेना अस्पताल किड़की, पूना में 8 फरवरी से अपनी सेवाएं देगी। कंचन ठाकुर  सुशीला ठाकुर व ओम प्रकाश ठाकुर निवासी गांव-करेड, डाकघर-ढलवान, तहसील-बल्द्वाडा, जिला मंडी की रहने वाली है। उन्होंने अपनी दसवीं तक की शिक्षा सरस्वती वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला महाजन बाजार मंडी तथा जमा दो की शिक्षा वरिष्ठ माध्यमिक कन्या पाठशाला  मंडी से प्राप्त की,  उसके उपरान्त बीएससी नर्सिंग व मास्टर्ज इन पब्लिक हेल्थ की डिग्री अकाल कॉलेज ऑफ  नर्सिंग व अकाल कॉलेज ऑफ पब्लिक हेल्थ बड्डू साहिब, जिला सिरमौर से उत्तीर्ण की।

कंचन के पिता ओम प्रकाश ठाकुर जो वन विभाग में निजी सहायक के पद पर अरण्यपाल मंडी के कार्यालय में कार्यरत हैं ने बताया कि इसका शुरू से ही कुछ अलग करने का ध्येय था व अपनी मर्जी का मालिक है। इन्होंने हिमाचल में स्वास्थ्य विभाग में सरकारी नौकरी पाने के बावजूद भी ज्वाइन नहीं किया। मंगेतर यशवंत ठाकुर जो गांव – बड़ागांव (पाली) तहसील पधर जिला मंडी से सम्बन्ध रखते हैं भी भारतीय सेना में कैप्टन के पद पर कार्यरत हैं से भी इन्हें भारतीय सेना में जाने की प्रेरणा मिली।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है