Covid-19 Update

2,16,639
मामले (हिमाचल)
2,11,412
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,392,486
मामले (भारत)
228,078,110
मामले (दुनिया)

स्वर्ण विरोधी नेताओं का गांव में आना निषेध है, लगेंगे गांव में ऐसे बोर्ड

2022 के चुनाव में आयोग विरोधी नेताओं को लिया जाएगा आड़े हाथों

स्वर्ण विरोधी नेताओं का गांव में आना निषेध है, लगेंगे गांव में ऐसे बोर्ड

- Advertisement -

रविन्द्र चौधरी/ फतेहपुर। स्वर्ण समाज की एक बैठक राजपूत सर्वहित कल्याण सभा फतेहपुर के अध्यक्ष रघुवीर सिंह पठानिया की अध्यक्षता में गांव बरोट में हुई। जिसमें रूमित ठाकुर प्रदेशाध्यक्ष देवभूमि क्षत्रिय संगठन, मदन ठाकुर प्रदेशाध्यक्ष देवभूमि स्वर्ण मोर्चा, दीपक चौहान आईटी एवं सोशल मीडिया संयोजक देवभूमि क्षत्रिय संगठन एवं देवभूमि स्वर्ण मोर्चा, रविंद्र सिंह नेगी शामिल रहे। बैठक में अपने संबोधन में रुमित ठाकुर ने सरकार व जनता द्वारा चुने गए नुमाइंदे स्वर्ण समाज विरोधी नीतियों को बनाने में सरकार का सहयोग कर रहे है ऐसे नेताओं को आने वाले समय में हमारा समाज ऐसे नेताओं का अपने गांवों में आना निषेध कर देगा।

यह भी पढ़ें:टिकैत की धमक: शिमला को दिल्ली बनते नहीं लगेगी देर, इसकी जिम्मेवार सरकार होगी

हर गांव में ऐसे बोर्ड टंगे मिलेंगे यहां नेताओं का आना वर्जित होगा। उन्होंने कहा कि सरकार स्वर्ण आयोग बनाने के लिए कुछ नहीं कर रही है। अगर ऐसा ही रहा तो 2022 के चुनाव में स्वर्ण समाज ऐसे नेताओं का खुल कर विरोध करेगा। उन्होंने कहा कि विधायक विक्रमादित्य ने जब स्वर्ण समाज के आयोग का गठन के लिए सरकार के समक्ष प्रस्ताव रखा, तो ऐसे नेताओं ने उनका समर्थन नही किया। उन्होंने कहा कि ऐसे स्वर्ण नेता अपने ही समाज के लिए नुकसानदेह है। उन्होंने लोगों से ऐसे नेताओं के बहिष्कार करने की अपील की। ये नेता स्वर्ण समाज का आर्थिक व सामाजिक उत्पीड़न कर रहे हैं जिसे अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है