×

एंटीलिया स्कॉर्पियो कार केस : जिस कार में बैठ कर भागा संदिग्ध वो क्राइम ब्रांच की निकली

पहले मामले की जांच कर रहे सचिन वाजे को एनआईए ने किया गिरफ्तार

एंटीलिया स्कॉर्पियो कार केस : जिस कार में बैठ कर भागा संदिग्ध वो क्राइम ब्रांच की निकली

- Advertisement -

मुंबई। भारत के सबसे बड़े उद्योगपति और सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के घर एंटीलिया के बार स्कॉर्पियो कार मामले (Antilia Scorpio Case) में अब नया मोड़ आ गया है। दावा किया जा रहा है कि मामला सुलझा लिया गया है। आपको बता दें कि एंटीलिया (Antilia) के बाहर एक स्कॉर्पियो कार बरामद हुई थी। इस कार से विस्फोटक सामग्री भी बरामद हुई थी। इसके बाद जांच की गई तो पता चला कि संदिग्ध इनोवा और स्कॉर्पियो (Scorpio) अलग-अलग कारों से एंटीलिया के बाहर पहुंचे थे। इसके बाद स्कॉर्पियो कार को वहीं छोड़ कर संदिग्ध इनोवा कार में फरार हो गया।


यह भी पढ़ें: भारत में प्रतिबंधित खालिस्तान समर्थक संगठन ने संयुक्त राष्ट्र को दिया चंदा और भी बहुत कुछ, पढ़े

अब जो खुलासा हो रहा है कि जिस इनोवा कार में संदिग्ध फरार हुआ था वो कार तो मुंबई पुलिस की अपराध शाखा की थी। हालांकि अभी तक इनोवा कार बरामद नहीं हुई है। यहां आपको यह भी बता दें कि मामले के कुछ दिन बाद स्कॉर्पियो कार का मालिक मनसुख हिरेन की लाश बरामद हुई थी। इस मामले में हत्या का मामला दर्ज किया गया है, लेकिन इनोवा कार किसकी थी, इसे लेकर छानबीन चल रही थी, जिसमें अब खुलासा हुआ है कि यह कार तो मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच की थी।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक में हंगामा,पूर्व सीएम के सामने हुई जमकर हाथापाई

गौरतलब हो कि सचिन वाजे स्पेशल ब्रांच (Special Branch) में तबादले से पहले क्राइम ब्रांच ही तैनात थे। दरअसल, शुरुआत में क्राइम ब्रांच (Crime Branch) ही इस मामले की जांच कर रहा था। सूत्रों के मुताबिक दोनों गाड़ियां एंटीलिया (Antilia) के बाहर पहुंचीं थीं। इसमें स्कॉर्पियो को बाहर खड़ा कर दिया गया और उसका ड्राइवर इनोवा में बैठकर फरार हो गया। स्कॉर्पियो में जिलेटिन की छड़ें थीं। बाद में इनोवा कार को मुलुंड टोल नाके को पार करते और ठाणे (Thane) में एंट्री करते देखा गया। ठाणे में एंट्री के बाद इनोवा कार (Innova Car) का अभी तक पता नहीं चल पाया है। दिलचस्प बात यह है कि सचिन वाजे (Sachin Waje) और मनसुख हिरेन दोनों ठाणे के रहने वाले हैं। आपको यह भी बता दें कि मामले को लेकर सचिन वाजे की गिरफ्तारी (Sachin Waje Arrested) हो चुकी है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है