Covid-19 Update

2,16,639
मामले (हिमाचल)
2,11,412
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,417,390
मामले (भारत)
228,533,587
मामले (दुनिया)

बल्लेबाज़ी के अलावा इन दिनों English Classes भी ले रहा हूं: पाकिस्तानी कप्तान बाबर

बल्लेबाज़ी के अलावा इन दिनों English Classes भी ले रहा हूं: पाकिस्तानी कप्तान बाबर

- Advertisement -

इस्लामाबाद। अंग्रेजी बोलने के दौरान होने वाली फजीहत के लिए पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ियों (Pakistani cricket players) का काफी बुरा रिकॉर्ड रहा है। अपनी ‘बॉयज प्लेयड वेल’ वाली अंग्रेजी के लिए जमाने से ट्रोल होते आए पाकिस्तानी खिलाड़ी अब अपने इस आचरण में थोड़ा बदलवा लाना चाहते हैं, जिसके लिए वो प्रयास भी कर रहे हैं। वनडे व टी20 फॉर्मैट में पाकिस्तानी कप्तान बाबर आज़म (Babar Azam) ने कहा है, ‘इन दिनों बल्लेबाज़ी पर ध्यान देने के अलावा इंग्लिश क्लासेज़ भी ले रहा हूं।’ बाबर आजम ने कहा, ‘Imran Khan एक आक्रामक कप्तान थे और मैं उनकी तरह बनना चाहता हूं। पाकिस्तान टीम की कप्तानी करना आसान काम नहीं है लेकिन मुझे अंडर-19 आयु वर्ग के समय से ही कप्तानी का अनुभव रहा है।’

पूर्व पाकिस्तानी पेसर तनवीर के बयान के बाद बोले बाबर

उन्होंने कहा कि एक संपूर्ण कप्तान होने के लिए आपको मीडिया से सहज रूप से बात करते आना चाहिए और लोगों के सामने अपने विचार प्रकट करते आना चाहिए, इसलिए इन दिनों बल्लेबाजी की प्रैक्टिस के साथ ही मैंने इंग्लिश क्लासेस ज्वॉइन की है। बता दें कि बाबर का बयान पूर्व पाकिस्तानी पेसर तनवीर अहमद के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा था कि बतौर कप्तान बाबर को मीडिया से बातचीत करने के लिए अंग्रेज़ी पर भी काम करना चाहिए। बाबर ने आगे कहा कि मैं वर्तमान समय में इंटरनेशनल क्रिकेट में पाकिस्तान टीम के स्तर से खुश नहीं हूं। कप्तानी मेरे लिए चुनौतीपूर्ण रहेगी लेकिन इसका मेरी बल्लेबाजी पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

यह भी पढ़ें: Corona से जंग के बीच सियासी संग्राम: प्रियंका की Bus लिस्ट में बाइक और ऑटो के नंबर का दावा

मैं इमरान खान की कप्तानी की शैली का अनुसरण करना चाहूंगा

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय टीम की कमान संभालना गर्व की बात होती है इसलिए यह मेरे लिए अतिरिक्त भार नहीं रहेगा। मैं ज्यादा जिम्मेदारी से खेलते हुए टीम के साथियों को प्रेरित करने का प्रयास करूंगा। पाकिस्तानी कप्तान ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा कि मै उसके साथ जाना चाहता हूं जो मैंने सीखा है कि हमला करना है। इसलिए, मैं इमरान खान की कप्तानी की शैली का अनुसरण करना चाहूंगा। कप्तान के रूप में, आपको शांत रहना सीखना होगा। आपको खिलाड़ियों को अपने साथ ले जाना होगा और उनके साथ अन्य टीमों के खिलाफ योजना बनानी होगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है