Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

यहां पर महज 300 रुपए में मिल रही 900 में बिकने वाली सेब की पेटी, जानें वजह

यहां पर महज 300 रुपए में मिल रही 900 में बिकने वाली सेब की पेटी, जानें वजह

- Advertisement -

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) से धारा 370 हटाए जाने के बाद से कश्मीर में हालात कुछ तो सुधरे हैं लेकिन वहां का कारोबार ठप पड़ा है। कश्मीर सेब के लिए प्रसिद्द है लेकिन धारा-370 के हटने के बाद से कश्मीर का माल कश्मीर से माल देश के दूसरे हिस्सों तक न पहुंच पाने के कारण कश्मीरी सेब की जो पेटी 800 से 900 रुपए में मिलती है उसको कारोबारी (Businessman) 200 से 300 रुपए में बेचने के लिए मजबूर हो रहे हैं। कश्मीर (Kashmir) में अभी कारोबार बंद हो जाने के कारण लगभग 100 करोड़ रुपए का माल डंप पड़ा है।

यह भी पढ़ें – सेना के खिलाफ झूठी बयानबाजी को लेकर शेहला रशीद पर देशद्रोह का केस दर्ज

स्थानीय कार्पेट कारोबारी के मुताबिक़, अगस्त के पहले तक उनका कारोबार महीने में 2 से 3 करोड़ रुपए का हो जाता था, लेकिन पिछले एक महीने से कारोबार पूरी तरह से बंद पड़ा है। पुलवामा (Pulwama) में कारपेट मैन्युफैक्चरिंग की तकरीबन 300 यूनिट हैं। कारोबारियों ने बताया कि कुछ यूनिट्स को फिर से चलाने की कोशिश की गई लेकिन इसे बंद करवा दिया गया। जो लोग कश्मीर के बाहर से हैं और यहां काम कर रहे हैं वे भी काम बंद होने के कारण अपने घरों के लिए निकल गए हैं। उधर सेब के कारोबारियों को भी इसी तरह की मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है। सेब को भी बेचने के लिए बाहर नहीं लेकर जा सकते हैं इसलिए उनका भी एक करोड़ तक का नुकसान हो चुका है। जहां पहले गाड़ी वाले 50 से 60 रुपए प्रति पेटी किराया लेते थे, अब ये किराया बढ़कर 150 रुपए प्रति पेटी तक पहुंच गया है।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है