Covid-19 Update

1,99,252
मामले (हिमाचल)
1,92,229
मरीज ठीक हुए
3,395
मौत
29,633,105
मामले (भारत)
177,469,183
मामले (दुनिया)
×

बातचीत का दिखा असर: East Ladakh में पीछे हटीं दोनों देशों की सेना, फिंगर-4 पर तनाव बरकरार

बातचीत का दिखा असर: East Ladakh में पीछे हटीं दोनों देशों की सेना, फिंगर-4 पर तनाव बरकरार

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत (India) और चीन (China) के बीच में जारी सीमा विवाद के बीच लेह स्थित 14वीं कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह और तिब्बत मिलिट्री डिस्ट्रिक्ट के कमांडर मेजर जनरल लियु लिन द्वारा शनिवार को की गई बातचीत का असर दिखने लगा है। पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन की सेनाएं धीरे-धीरे पीछे हट रही हैं। इसे वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर घटते तनाव का एक संकेत माना जा रहा है। हालांकि फिंगर-4 को लेकर दिक्कत बरकरार है। सूत्र बातते हैं कि पैंगोंग त्सो के पास फिंगर-4 (Finger-4) पर गतिरोध दूर करने में वक्त लग सकता है क्योंकि यहां से चीनी सैनिक पीछे हटने को फिलहाल तैयार नहीं है और वहां माहौल में नरमी अब तक नहीं आई है।

यह भी पढ़ें: Sammy को ‘कालू’ बताने वाले 2014 के इंस्टाग्राम पोस्ट पर घिरे Ishant Sharma; लोग बोले- डिलीट करो..

भारत और चीन के सैन्य अधिकारियों के बीच जल्द बातचीत होगी

रिपोर्ट्स के अनुसार सीमा विवाद पर चीन से अभी भी कुछ मुद्दों पर चर्चा होना बाकी है। भारत और चीन के सैन्य अधिकारियों के बीच जल्द बातचीत होगी। भारत-चीन के बीच ब्रिगेडियर और मेजर स्तर की चर्चा जल्द होगी। दोनों देशों की बीच सैन्य स्तर की वार्ता गलवान इलाके के पेट्रोलिंग प्वॉइंट 14, 15 और स्प्रिंग इलाके में होगी। सूत्रों के मुताबिक, चीनी सेना गलवान वैली, पीपी-15 और हॉट स्प्रिंग इलाके में 2 से ढाई किमी पीछे तक हट गई है। ये सभी इलाके पूर्वी लद्दाख में पड़ते हैं। बता दें कि पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में भारत और चीनी सेनाओं के बीच पिछले एक महीने से गतिरोध बना है। सूत्रों के मुताबिक, फिंगर-4 का हल इतनी जल्दी निकलने की उम्मीद नहीं दिख रही। मीटिंग में भी माना गया कि यहां पर गतिरोध लोकल कमांडर या हाइएस्ट लेवल मीटिंग से दूर नहीं हो पाएगा। इसके लिए फिर से कोर कमांडर स्तर की मीटिंग बुलाई जा सकती है। इस बार यह मीटिंग भारत की तरफ होगी।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है