Covid-19 Update

1,99,252
मामले (हिमाचल)
1,92,229
मरीज ठीक हुए
3,395
मौत
29,633,105
मामले (भारत)
177,469,183
मामले (दुनिया)
×

कोविड मरीजों के लिए आर्ट ऑफ लिविंग व आयुष विभाग का घर-द्वार वैलनेस कार्यक्रम

कांगड़ा जिले में आर्ट ऑफ लिविंग द्वारा हेल्पलाइन नंबर जारी

कोविड मरीजों के लिए आर्ट ऑफ लिविंग व आयुष विभाग का घर-द्वार वैलनेस कार्यक्रम

- Advertisement -

धर्मशाला। हिमाचल प्रदेश के हर जिले में आर्ट ऑफ लिविंग( Art of Living) ने आयुष विभाग के साथ मिलकर कोरोना मरीजों ( Corona patients) के लिए आयुष घर द्वार वैलनेस कार्यक्रम (Wellness program) शुरू किया है। कांगड़ा जिले में भी इसकी शुरुआत कर दी गई है। कांगड़ा जिला आर्ट ऑफ लिविंग के राज्य उप मीडिया कोऑर्डिनेटर जीएल वर्मा ने बताया कि इस कार्यक्रम का शुभारंभ स्वास्थ्य मंत्री डॉ राजीव सहजल ( Health Minister Dr. Rajeev Sehjal) ने सोलन में किया। इस कार्यक्रम का लाभ जिले के कोरोना मरीजों को मिलेगा जो कोविड सेंटरों तथा होम आइसोलेशन में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं । उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम का उद्देश्य मरीजों की रिकवरी दर को बढ़ाना, जीवन स्तर में सुधार करना, समान स्वास्थ्य देखभाल सुविधा और कोविड-19 बीमारी से उभरने के बाद पुनर्वास सुनिश्चित करना है।

ये भी पढ़ेःLive Report: कोरोना कर्फ्यू को आगे बढ़ाने वाली Himachal Cabinet की बैठक शुरू,ये हो सकते हैं निर्णय

जीएल वर्मा ने कहा कि आयुष के माध्यम से न केवल शारीरिक बल्कि मानसिक, सामाजिक और अध्यात्मिक रूप से भी समग्र स्वास्थ्य देखभाल दृष्टिकोण प्रदान करना है। जूम, व्हाट्सऐप तथा गूगल मीट जैसे सोशल मीडिया मंच पर वर्चुअल समूह बनाए जाएंगे और प्रत्येक समूह में 20 से 30 मरीज व एक एएमओ/आयुर्वेदिक/पैरामेडिकल स्टाफ/नोडल अधिकारी और एक प्रशिक्षित प्रशिक्षक/आर्ट आफ लिविंग के स्वयंसेवक शामिल होंगे, जो विभिन्न सत्र लेंगे। इन सत्रों में होम आइसोलेशन, योग, प्राणायाम और श्वास अभ्यास, ध्यान और अभ्यास के दौरान क्या करें और क्या न करें पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा। कार्यक्रम में किस प्रकार मन को शांत करें, भय को दूर करें और तनावमुक्त रहें, मानसिक स्वास्थ्य परामर्श, आयुष द्वारा खुशहाल और समग्र स्वस्थ जीवनशैली दृष्टिकोण, जागरुकता और टीकाकरण अभियान को बढ़ावा देना भी शामिल है।


ये भी पढ़ेःशराब पीकर बैठे Driving Seat पर तो स्टार्ट ही नहीं होगी गाड़ी,  घरवालों को भी चला जाएगा मैसेज

वर्मा ने बताया कि कांगड़ा जिले में इस संकट के समय मे किसी को सहायता की आवश्यकता है तो नीचे दिए गए नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं। आर्ट ऑफ लिविंग के स्वयंसेवक दल सहायता के लिए उपस्थित हैं। उन्होंने बताया कि आर्ट ऑफ लिविंग कोविड केअर ऑनलाइन कार्यशाला प्राणायाम ध्यान तनाव से मुक्ति के लिए 94594-11194 पर, चिंता और तनाव हेल्पलाइन 941-805-7699 पर, कोविड रोगियों के लिए भोजन 82788 51799 पर तथा अन्य किसी भी सहायता के लिए 9459411194 और संपर्क किया जा सकता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है