Covid-19 Update

2,06,161
मामले (हिमाचल)
2,01,388
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,695,958
मामले (भारत)
199,022,838
मामले (दुनिया)
×

GDP में गिरावट पर Arun Jaitley की सफाई : विरासत में मिला भ्रष्टाचार

GDP में गिरावट पर Arun Jaitley की सफाई : विरासत में मिला भ्रष्टाचार

- Advertisement -

आर्थिक मंदी को जिम्मेदार ठहराया, नोटबंदी का भी जिक्र

नई दिल्ली। तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था का तमगा छिनने पर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सफाई पेश की है। जेटली ने पुरानी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि हमें विरासत में भ्रष्टाचार मिला था, जिसका हम खात्मा करने में ज्यादातर कामयाब रहे हैं। देश के विकास की रफ्तार में आई गिरावट के लिए अरुण जेटली ने दुनिया भर में जारी आर्थिक मंदी को जिम्मेदार ठहराया है। वित्त वर्ष 2016-17 की चौथी तिमाही जनवरी से मार्च के दौरान जीडीपी ग्रोथ महज 6.1 फीसदी पर अटक गई।

अरुण जेटली ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारतीय अर्थव्यस्था पर दुनिया के स्लो डाउन का असर पड़ा है। इसके साथ ही सरकार के तीन साल के कामकाज का ब्यौरा देते हुए जेटली ने कहा कि पिछले तीन 3 साल आर्थिक चुनौती भरे रहे। इस दौरान दो साल मानसून भी कमजोर रहा। हमें विरासत में खराब अर्थव्यवस्था मिली, जहां भ्रष्टाचार व्याप्त था। हालांकि पिछले तीन वर्षों को देखें तो भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर भरोसा बढ़ा है। उन्होंने कहा, इन तीन वर्षों में हमने सख्त निर्णय लिए, भ्रष्टाचार रोकने के प्रयास किए और इसमें नोटबंदी एक बड़ा कदम था। हमने विदेशी निवेश बढ़ाने का काम किया और देश की छवि बदलने से इसमें फायदा मिला।


बता दें कि देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की रफ्तार पिछले वित्त वर्ष में 7.1 फीसदी रही थी, वहीं पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में यह 6.1 फीसदी रही और इस वजह से भारत का सबसे तेजी से उभरती अर्थव्यवस्था का तमगा भी छिन गया है। चौथी तिमाही में ग्रोथ का आंकड़ा इतना कम रहने की बड़ी वजह नोटबंदी को माना जा रहा है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है