Covid-19 Update

2,16,303
मामले (हिमाचल)
2,11,008
मरीज ठीक हुए
3,628
मौत
33,347,325
मामले (भारत)
227,342,315
मामले (दुनिया)

फिर अशोक मेहरा को सौंपी नप Sujanpur Tira की कमान, नाटकीय ढंग से हुआ Election

फिर अशोक मेहरा को सौंपी नप Sujanpur Tira की कमान, नाटकीय ढंग से हुआ Election

- Advertisement -

हमीरपुर। नगर परिषद सुजानपुर टीहरा में आज अध्यक्ष पद पर नाटकीय ढंग से चुनाव संपन्न हुए। अविश्वास प्रस्ताव लाने के बाद भी फिर से अशोक मेहरा (Ashok Mehra) को नगर परिषद अध्यक्ष बनाया गया है। अध्यक्ष पद के लिए चुनाव प्रकिया सुबह 10 बजे से शुरू हुई और दोपहर 12 बजे हुए मतदान में बीजेपी (BJP) के उम्मीदवार अशोक मेहरा ने बीजेपी की बागी उम्मीदवार सुमन अटवाल को 5 के मुकाबले 4 मतों से हराया।

यह भी पढ़ें: Himachal में ठंड ने ली एक की जान, चार अन्य Hospital में भर्ती

चुनाव अधिकारी और उपमंडल अधिकारी शिल्पा बेक्टा के समक्ष अध्यक्ष पद के लिए सुबह बीजेपी की बागी उम्मीदवार उम्मीदवार सुमन अटवाल और बीजेपी से अशोक मेहरा ने नामांकन पत्र भरा। इसके बाद वोटिंग करवाई गई। वोटिंग (Voting) के दौरान एक पार्षद के गलत मत डाल दिया और दोनों पार्षदों को 4-4 मत पड़े। इसके बाद पार्षदों ने दोबारा से पर्ची सिस्टम करवा कर मत डलवाए। इसमें 5 पार्षदों ने अशोक मेहरा के पक्ष में वोटिंग करवाकर वोट उन्हें अध्यक्ष चुन लिया। वोंटिग के दौरान सुमन अटवाल को कांग्रेस का समर्थन प्राप्त हुआ।

नतीजे (Result) आने के बाद सुमन अटवाल ने कहा कि बीजेपी की सरकार और दबाव के बावजूद 5 के मुकाबले 4 मतों से जीतना को बड़ी जीत नहीं है। उन्होंने कहा कि वह बीजेपी की सदस्य हैं और रहेंगी। वहीं, अविश्वास प्रस्ताव लाने वाले रमन भटनागर ने कहा कि उन्होंने बीजेपी के पक्ष में मतदान किया है और जो भी मनमुटाव थे उन्हें बीजेपी के वरिष्ठ नेता व पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल के साथ मिलकर दूर कर लिए गए हैं। आने वाले उपाध्यक्ष पद के चुनाव में भी बीजेपी जीतेगी। वहीं, अविश्वास प्रस्ताव लाने वाले मनोज ठाकुर ने कहा कि आने वाले उपाध्यक्ष पद के चुनाव में भी कांग्रेस अपना उम्मीदवार देगी और परिणाम उनके पक्ष में होंगे। उन्होने कहा कि बीजेपी ने जिस तरह सुमन अटवाल के साथ व्यवहार किया है वही दूसरे पार्षद के खिलाफ भी करे।

गौरतलब रहे कि बीजेपी के ही पार्षद अपनी ही सरकार में अविश्वास प्रस्ताव लेकर आए थे और अपने ही अविश्वास प्रस्ताव को ध्वस्त करते हुए दोबारा से अशोक मेहरा को ही कुर्सी पर बैठा दिया गया है जिसमें शहर में भी चर्चा का विषय बना हुआ है। यदि अशोक मेहरा को ही अध्यक्ष पद पर काबिज करना था तो क्यों अविश्वास प्रस्ताव लेकर नगर परिषद के पार्षद लेकर आए हैं। वहीं, बीजेपी में भले ही अध्यक्ष पद को लेकर खुशी की लहर है लेकिन बीजेपी प्रत्याशियों में अभी भी दूरी होती देखी नजर आ रही है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है