Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,612,794
मामले (भारत)
198,030,137
मामले (दुनिया)
×

Assembly भंग कर नया जनादेश हासिल करें वीरभद्र Government

Assembly भंग कर नया जनादेश हासिल करें वीरभद्र Government

- Advertisement -

Assembly Dissolved :शिमला। प्रदेश सरकार जनता का विश्वास खो चुकी है अब विधानसभा को भंग कर सरकार को नया जनादेश लेना चाहिए। अब प्रदेश में ऐसे  हालात बन गए हैं कि विधानसभा के फिर से चुनाव करवाए जाएं। बीजेपी नेता राजीव बिंदल का कहना है कि आज कांग्रेस का राष्ट्रीय नेतृत्व इतना कमजोर और असहज हो गया है कि वह एक छोटे से राज्य के अपने दल के सीएम को लेकर कोई निर्णय नहीं ले पा रहा है। प्रदेश बीजेपी प्रवक्ता डॉ राजीव बिंदल ने प्रेस कांन्फ्रेंस में कहा कि राज्य की कांग्रेस सरकार वेंटीलेटर पर है और देश के नामी वकीलों के माध्यम से इस सरकार को ऑक्सीजन दी जा रही है।

अपनी जिद पर अड़े हैं वीरभद्र सिंह

उन्होंने कहा कि सीएम वीरभद्र सिंह केवल मात्र अपनी गद्दी बचाने में लगे हैं और इस कार्य में पूरी सरकार झोंकी गई है। इससे प्रदेश की जनता का इस सरकार से विश्वास उठ गया है। डॉ बिंदल ने सीएम वीरभद्र सिंह पर हमला बोलते हुए कहा कि वे केवल अपनी जिद पर अड़े हैं और इसके चलते राज्य में विकास ठप है और प्रदेश पर कर्ज का बोझ लगातार बढ़ता जा रहा है। उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह न हिमाचल के हित देख रहे हैं और न ही कांग्रेस के हित। वे केवल अपनी जिद पर अड़े हुए हैं और खुद को ही सही बता रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसी देश के किसी भी राज्य में नहीं हुआ कि चार्जशीट दाखिल होने के बाद उस राज्य का सीएम गद्दी पर रहा हो। उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह की नजर में केवल वे ही सही हैं और बाकी सब, सीबीआई गलत, ईडी गलत है,आईटी विभाग गलत है और हाईकोर्ट भी गलत है।


 दिवालिया हो गई है कांग्रेस….

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि चौंकाने वाली बात यह है कि देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस, जिसने देश में 58 वर्ष राज किया है, वह आज दिवालिया हो गई है। उन्होंने कहा कि इस पार्टी का नेतृत्व असहज, अनिर्णायक, कमजोर हो गया है। उन्होंने जानना चाहा कि ऐसा क्या है कि कांग्रेस हाईकमान को कोई निर्णय लेने से रोक रहा है। उन्होंने कहा कि साढ़े चार वर्ष से राज्य की जनता इस सरकार को झेल रही है और यह सरकार वेंटीलेटर पर है। देश के नामी वकील करोड़ों रुपए फीस लेकर इस सरकार को ऑक्सीजन देने का प्रयास कर रहे हैं।

डॉ बिंदल ने कहा कि सीएम केवल अपनी कुर्सी बचाने में लगे हैं और सरकार के नीली बत्ती वाले निगम-बोर्डों के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष केवल बीजेपी के खिलाफ बोल रहे हैं। वहीं कांग्रेस का दूसरा गुट इस जुगाड़ में लगे हैं कि कब कुर्सी खाली हो और उन्हें मिले। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में आज हताशा इस कद्र है कि वे अब बीजेपी के घरों के बाहर धरना देने लगे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार साढ़े चार वर्ष में केवल बीजेपी नेताओं के खिलाफ एक के बाद एक केस किया और अब फिर वही कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि बदला-बदली और कीचड़ उछालने का यह कार्य अब ज्यादा दिन चलने वाला नहीं है और राज्य की जनता इन्हें करारा जवाब देगी।

ये भी पढ़ें  : आय से अधिक संपत्ति के मामले में SC गए Virbhadra, एसएलपी दायर

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है