Covid-19 Update

1,98,361
मामले (हिमाचल)
1,90,296
मरीज ठीक हुए
3,369
मौत
29,439,989
मामले (भारत)
176,417,357
मामले (दुनिया)
×

Himachal में नशा तस्करों पर नकेल, एक साल में 11.37 करोड़ रुपये की संपत्ति अटैच

सीएम जयराम ठाकुर बोले-हिमाचल को ड्रग फ्री स्टेट बनाने के लिए प्रतिबद्ध

Himachal में नशा तस्करों पर नकेल, एक साल में 11.37 करोड़ रुपये की संपत्ति अटैच

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल (Himachal) में पिछले एक वर्ष में नशा तस्करी के 19 विभिन्न मामलों में 11.37 करोड़ रुपये की संपत्ति अटैच (Attach) और फ्रीज की गई, जिसमें जिला कुल्लू (Kullu) में 15 मामलों में 3.79 करोड़ रुपये की संपत्ति व जिला कांगड़ा में दो मामलों में 7.29 करोड़ रुपये की संपत्ति अटैच तथा जिला बिलासपुर के एक मामले में 18.31 लाख रुपये व जिला शिमला (Shimla) के एक मामले में 10.67 लाख रुपये के बैंक डिपोटिज फ्रीज किए गए हैं। यह जानकारी सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने दी है। सीएम जयराम ठाकुर ने आज यहां कहा कि प्रदेश सरकार नशीली दवाओं की तस्करी से निपटने के लिए बहु आयामी रणनीति अपनाकर राज्य को ‘ड्रग फ्री स्टेट’ बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य पुलिस को बड़े नशा तस्करों के अलावा छोटे तस्करों पर भी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि भांग और अफीम की अवैध खेती को नष्ट करने और नशा तस्करों की संपत्ति को अटैच करने के लिए कदम उठाए गए हैं।

यह भी पढ़ें: Solan: अफीम की खेती करने पर एक गिरफ्तार, 1,190 पौधे बरामद

जनवरी 2020 से 30 अप्रैल 2021 तक 2116 मामले दर्ज

सीएम ने कहा कि एक जनवरी, 2020 से 30 अप्रैल, 2021 तक एनडीपीएस अधिनियम (NDPS Act) की संबंधित धारा के अंतर्गत कुल 2,126 मामले दर्ज किए गए हैं और 2,909 व्यक्तियों को हिरासत में लिया गया है। इस अवधि के दौरान विभिन्न खुफिया अभियानों के माध्यम से बड़े पैमाने पर प्रतिबंधित पदार्थों की अवैध खेती का पता लगाकर इसे नष्ट किया गया है। उन्होंने कहा कि इस दौरान 7,917 बीघा भूमि में लगभग 12.52 लाख भांग के पौधे और 52 बीघा भूमि में 2.66 लाख अफीम के पौधे नष्ट किए गए हैं। उन्होंने कहा कि भू-स्वामियों व अपराधियों के विरूद्ध 161 मामले दर्ज किए गए हैं।


यह भी पढ़ें: Kullu: सेब के बगीचों में अफीम, 2,641 पौधे बरामद-दो के खिलाफ केस
चौहार घाटी में अफीम की खेती का किया खुलासा

सीएम ने कहा कि हाल ही में राज्य पुलिस ने मंडी जिले के पधर की टिक्कन उप-तहसील के अंतर्गत चौहार घाटी में 66 बीघा भूमि पर 10 करोड़ रुपये मूल्य के 15 लाख अफीम के पौधे की अवैध खेती का पता लगाने में सफलता प्राप्त की है। उन्होंने कहा कि एनडीपीएस अधिनियम के प्रावधानों के तहत अपराधियों द्वारा नशीले पदार्थों के अवैध व्यापार से अर्जित चल और अचल संपत्तियों को अटैच करने के लिए वित्तीय जांच की गई है। सीएम ने राज्य में हिमाचल प्रदेश पुलिस (Himachal Pradesh Police) द्वारा मादक द्रव्यों के खतरे को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करने के लिए किए गए प्रयासों की प्रशंसा करते हुए पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू (Director General of Police Sanjay Kundu) और उनकी संपूर्ण टीम को उनके अथक प्रयासों के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि राज्य पुलिस प्रवर्तन निदेशालय के सहयोग से ऐसे अपराधियों के विरूद्ध धन-शोधन निवारण अधिनियम के अंतर्गत जांच करने पर विचार कर रही है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है