- Advertisement -

गुस्सा कम करना है तो चांदी के गिलास में पीएं पानी

गुस्सा, तनाव का सबसे बड़ा कारण होता है। वास्तु के अनुसार माना जाता है कि अगर आप दिन में एक बार चांदी के गिलास में पानी पीते हैं तो इससे गुस्से पर आसानी से काबू पाया जा सकता है।

घर की सीढ़ियां खोलेंगी किस्मत का दरवाजा, ध्यान रखें ये बातें

इस बात का ध्यान रखें सीढ़ियां जब पहली मंजिल की ओर निकलती हों तो हमारा मुख उत्तर-पश्चिम या दक्षिण-पूर्व में होना चाहिए। सीढ़ियों के लिए भवन के पश्चिम, दक्षिण या र्नैत्य का क्षेत्र सर्वाधिक उपयुक्त होता है।

चेहरे के दाग-धब्बे मिटाए केसर

केसर का उबटन लगाने से त्वचा का रंग निखर आता है। स्किन का रूखापन हो तो चार ग्राम मक्खन में केसर डाल कर क्रीम की तरह चेहरे पर लगाएं।

- Advertisement -

पेट, त्वचा और बाल दही रखे सबका ख्याल

दही को सेहत के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। इसमें कुछ ऐसे रासायनिक पदार्थ होते हैं, जिसके कारण यह दूध की तुलना में जल्दी पच जाता है। कई लोगों को खाना खाने के बाद एसिडिटी की शिकायत होती है।

सुंदरता और दिमाग के लिए फायदेमंद चना, सर्दियों में रोजाना करें सेवन

चने को गरीबों का बादाम कहा जाता है, क्योंकि यह सस्ता होता है लेकिन इसी सस्ती चीज में बड़ी से बड़ी बीमारियों की लड़ने की क्षमता है। चने के सेवन से सुंदरता बढ़ती है साथ ही दिमाग भी तेज हो जाता है।

रविवार को करेंगे ये उपाय तो दूर होंगी परेशानियां 

शास्त्रों में रविवार के दिन को सुख-समृद्धि पाने का दिन माना गया है। रविवार सूर्यदेव का दिन होता है और सूर्य की उपासना करने से हमें सुख-समृद्धि के साथ ऐश्वर्य की प्राप्ति भी होती है।

- Advertisement -

ये मूल्यवान पत्थर धारण करने से दूर होगा राहु, शनि और केतु का दुष्प्रभाव

लाजवर्द को धारण करने के बाद व्यक्ति पर राहु, शनि और केतु का दुष्प्रभाव खत्म हो जाता है। शनि, राहु और केतु के प्रकोप से बचाता है और दुर्भाग्य को दूर कर के व्यक्ति को सफलता दिलाता है।

बालों में शाइन और त्वचा में नमी बनाए रखे नारियल का तेल

नारियल तेल में विटामिन ई का कैप्सूल मिलाकर रात में चेहरे पर झुर्रियों वाले हिस्से में लगाएं और सुबह पानी से धो लें। इससे त्वचा में कसाव आता है और झुर्रियां कम होती हैं।

पार्टनर के बारे में बहुत कुछ कहता है स्किन कलर

अमूमन जिन लोगों की त्वचा का रंग गहरा या सांवला होता है वह स्वभाव से बेहद मेहनती और शारीरिक रूप से स्वस्थ रहते हैं। इनका मानसिक विकास इसलिए ज्यादा बेहतर तरीके से नहीं हो पाता क्योंकि ये लोग सामाजिक रिवाजों और परंपराओं से दूर रहते हैं।

- Advertisement -

शांतिदायक और कल्याणकारी मां चंद्रघंटा

मां दुर्गा की तृतीय शक्ति का नाम चंद्रघंटा है। नवरात्र के तीसरे दिन इन का पूजन किया जाता है। मां का यह स्वरूप शांतिदायक और कल्याणकारी है। इनके माथे पर घंटे के आकार का अर्धचंद्र है, इसीलिए इन्हें चंद्रघंटा कहा जाता है। इनका शरीर स्वर्ण के समान उज्ज्वल है, इनके दस हाथ हैं।