Covid-19 Update

2,18,314
मामले (हिमाचल)
2,12,899
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,678,119
मामले (भारत)
232,488,605
मामले (दुनिया)

शीतलहर की चपेट में Himachal, पांच जिलों में हिमस्खलन का खतरा

शीतलहर की चपेट में Himachal, पांच जिलों में हिमस्खलन का खतरा

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश में पिछले दिनों की बर्फबारी के बाद बेशक आज दिन की शुरुआत खिला धूप के साथ हुई है लेकिन शीतलहर का प्रकोप जारी है। प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों में बीती शाम बर्फबारी (snowfall) हुई वहीं निचले इलाकों में बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई। ताजा बर्फबारी से प्रदेश शीतलहर की चपेट में है। प्रदेश में ठंड का प्रकोप तो बढ़ ही गया है साथ ही हिमस्खलन (Avalanche) का खतरा भी बढ़ा है। राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एसडीएमए) ने प्रदेश के पांच जिलों में हिमस्खलन की चेतावनी दी है। एसडीएमए ने कुल्लू, लाहुल स्पीति, चंबा, किन्नौर और शिमला जिले के लिए हिमस्खलन का अलर्ट जारी किया है। प्रशासन को भी सतर्क रहने और लोगों से घर से बाहर न निकलने की अपील की गई है।

यह भी पढ़ें: पुलिस जवान की जान बचाने को बर्फीले रास्ते में 4 घंटे में 7 किमी पैदल सफर

बीती शाम शिमला (Shimla) सहित कुफरी व ऊपरी क्षेत्रों में बर्फबारी हुई। बर्फबारी के बाद कुफ़री, नरकंडा, खड़ापत्थर, रोहडू, चौपाल में यातायात बंद है। बारिश व बर्फबारी से प्रदेश में करीब 209 सड़कें बंद हो गई हैं। प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में 281 ट्रांसफार्मर बंद होने से कई गांव अंधेरे में डूब गए हैं। 20 जनवरी से पश्चिमी हवा सक्रिय होने से 22 जनवरी तक ऊंचे व मध्य पर्वतीय क्षेत्रों में बर्फबारी और निचले क्षेत्रों में वर्षा की संभावना है। इस वजह से प्रदेश में आने वाले दिनों में तापमान में और अधिक गिरावट की संभावना है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है