Covid-19 Update

59,118
मामले (हिमाचल)
57,507
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,228,288
मामले (भारत)
117,215,435
मामले (दुनिया)

नजदीक न जाएं पहाड़ों के, हिमाचल के इन पांच जिलों में हिमस्ख्लन की चेतावनी

नजदीक न जाएं पहाड़ों के, हिमाचल के इन पांच जिलों में हिमस्ख्लन की चेतावनी

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश के पांच जिलों- किन्नौर, शिमला, कुल्लू, चंबा और लाहौल-स्पीति में हिमस्खलन की चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग ने इस महीने के आखिर तक बारिश और बर्फबारी जारी रहने की संभावना जताई है। ऐसे में बेहतर यही होगा कि ऊंचे पहाड़ों के नजदीक न जाएं। लगातार हो रही बारिश और बर्फबारी से प्रदेश की 540 सडकें बंद हैं।

बीते 24 घंटे में भुंतर में सबसे ज्यादा 51 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। धर्मशाला में 18.2, कांगड़ा 10.8, मनाली 20, कांगड़ा 10.8, मंडी 12.2, डलहौजी 20, चंबा 29 और शिमला में 20 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। मौसम विभाग ने 22 फरवरी को भी कुछ क्षेत्रों में बारिश की संभावना जताई गई है। 23 फरवरी को मौसम साफ रहेगा। लेकिन 27 फरवरी तक मध्य व उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश और बर्फबारी की संभावना जताई गई है। जिला कुल्लू की ऊंची चोटियों के साथ साथ समूचे लाहौल स्पीति में बर्फबारी हुई है। जनजातीय जिला लाहौल स्पीति के मुख्यालय केलांग में डेढ़ फुट ताजा बर्फबारी हुई है जबकि उदयपुर में पौने दो फुट, कोखसर में तीन और रोहतांग दर्रा में चार फुट से अधिक बर्फबारी हुई है।

यह भी पढ़ेंः चंबा में मूसलाधार बारिश तो पांगी में बर्फ का कहर, पहाड़ से पत्थर गिरने से महिला घायल

500 से ज्यादा सड़कें बंद

बीते 3 दिन से हो रही बारिश और बर्फबारी के चलते शिमला जोन की 156, मंडी जोन की 235, कांगड़ा जोन की 147 और दो एनएच बंद हैं। हिमाचल प्रदेश लोक निर्माण विभाग ने शुक्रवार तक 143 सडक़ें बहाल करने का लक्ष्य रखा है, जबकि 22 फरवरी तक 311 सडक़ें बहाल हो जाएंगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है