×

Himachal: सरकार के प्रयासों के बावजूद व्यवसाय से क्यों मुंह मोड़ रहे भेड़पालक

भेड़पालकों की कुछ मुख्य समस्याएं, जिसके कारण हो रहा ऐसा

Himachal: सरकार के प्रयासों के बावजूद व्यवसाय से क्यों मुंह मोड़ रहे भेड़पालक

- Advertisement -

ऊना। वूल फेडरेशन के उपाध्यक्ष त्रिलोक कपूर (Wool Federation Vice President Trilok Kapoor) ने कहा कि हिमाचल सरकार (Himachal Govt) के प्रयासों से ही भेड़पालक व्यवसाय में नया परिवर्तन आया है। कांग्रेस ने सदा भेड़पालकों की अनदेखी की है, लेकिन जब जब बीजेपी (BJP) की सरकारें सत्ता में आईं भेड़पालकों की आर्थिकी को सुदृढ़ करने की दिशा में कदम उठाए हैं। वहीँ त्रिलोक कपूर ने यह भी माना कि भेड़पालक अब इस व्यवसाय से दूरी बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि भेड़पालकों की कुछ मुख्य समस्याएं हैं, जिसके चलते वो इस व्यवसाय को छोड़ रहे हैं, लेकिन प्रदेश सरकार उनकी इन समस्यायों का निदान करने का प्रयास कर रही है, ताकि भेड़पालक अपने इस व्यवसाय से जुड़े रहे।



पशुपालन विभाग (Animal Husbandry Department) द्वारा मंगलवार को जिला मुख्यालय स्थित पशुपालन विभाग के उपनिदेशक कार्यालय परिसर में भेड़ पालकों के लिए जागरूकता कैंप का आयोजन किया गया। इस मौके पर वूल फेडरेशन के उपाध्यक्ष त्रिलोक कपूर ने कैंप की अध्यक्षता की। कार्यक्रम के दौरान त्रिलोक कपूर ने कांग्रेस (Congress) पर भेड़ पालक समुदाय की अनदेखी करने के आरोप जड़ते हुए जमकर हमला बोला।

कैंप के दौरान त्रिलोक कपूर ने भेड़ पालकों को पशुपालन विभाग की तरफ से मेडिकल किट प्रदान की। कैंप में त्रिलोक कपूर और पशुपालन विभाग के अधिकारियों ने भेड़पालकों को सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। इस दौरान भेड़पालकों को मेडिकल किटें भी वितरित की गई। राज्य वूल फेडरेशन के अध्यक्ष त्रिलोक कपूर ने कहा कि प्रदेश सरकार भेड़पालकों के उत्थान के लिए लगातार प्रयासरत है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है