Covid-19 Update

1,51,597
मामले (हिमाचल)
1,11,621
मरीज ठीक हुए
2156
मौत
24,046,809
मामले (भारत)
161,846,155
मामले (दुनिया)
×

सोलनः बैंक में लूट के दोषी को 34 साल बाद मिली सजा, 10 साल का कठोर कारावास

सोलनः बैंक में लूट के दोषी को 34 साल बाद मिली सजा, 10 साल का कठोर कारावास

- Advertisement -

सोलन। करीब 34 साल बाद कसौली के बैंक (Bank) ऑफ बड़ौदा में हुई लूट मामले के दोषी को अदालत ने 10 साल के कठोर कारावास की सजा (Jail) सुनाई है। साथ ही 25 हजार जुर्माना किया है। यह सजा सोलन के सेंशन जज भूपेश शर्मा ने खरैती लाल पुत्र सोहन लाल निवासी फिरोजपुर पंजाब जोकि वर्तमान में चंडीगढ़ सेक्टर 29बी रहता है को सुनाई है। कोर्ट ने धारा 397व 398 के तहत दस-दस साल की कठोर कैद की सजा सुनाई है। साथ ही इंडियन आम्र्स एक्ट के सेक्शन 25 के तहत दो साल की सजा व 25 हजार जुर्माना किया है। जुर्माना अदा न करने की सूरत में 6 माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। यह सभी सजाएं साथ-साथ चलेंगी।


यह भी पढ़ें :-इक्डोल स्नातक, स्नातकोत्तर कक्षाओं व डिप्लोमा की पंजीकरण तिथि बढ़ी


क्या था मामला

28 जनवरी 1985 को पुलिस स्टेशन कसौली (Police Station Kasauli) में मामला दर्ज हुआ था। यह उस समय के बैंक ऑफ बड़ौदा के हेड केशयर अनंत राम ठाकुर के बयान पर दर्ज किया गया था। बयान में बताया गया था कि दोषी खरैती लाल अपने भाई वलायती लाल के साथ बैंक ऑफ बड़ौदा में घुसा। बैंक में घुसने से पहले उन्होंने टेलीफोन की लाइन काट दी थी। उनके चेहरे ढके हुए थे। तलवार व अन्य हथियार से बैंक अधिकारियों को डराने लगे। दोषी व उसके भाई ने बैंक से एक लाख 21 हजार 413 रुपए लूट लिए। हालांकि, स्थानीय पुलिस द्वारा एक एचआरटीसी चालक करम चंद की सहायता से उन्हें मौके पर ही काबू कर लिया। जांच में पता चला कि दोषी खरैती लाल पंजाब पुलिस में कांस्टेबल के रूप में तैनात था।


पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। जांच के बाद 19 जुलाई 1985 को चार्जशीट कोर्ट में पेश की। कोर्ट में ट्रायल चला। इसी बीच दोषी और उनका भाई वलायती लाल फरार हो गए। 10 दिसंबर 1990 को कोर्ट ने उन्हें भगौड़ा घोषित कर दिया। कसौली पुलिस ने 22 मई 2019 को करीब 28 साल बाद खरैती लाल को गिरफ्तार कर लिया। उस पर दोबारा मुकदमा चला और आज कोर्ट ने उसे सजा सुनाई। सरकार की तरफ से मामले की पैरवरी जिला न्यायवादी संजय चौहान ने की। हालांकि, पहले मामले की पैरवी सोलन के तत्कालीन सरकारी वकील सुभाष शर्मा ने की थी।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है