Covid-19 Update

57,082
मामले (हिमाचल)
55,536
मरीज ठीक हुए
955
मौत
10,606,215
मामले (भारत)
96,852,173
मामले (दुनिया)

पद्म सम्मान नहीं मिलने से नाराज Jwala-Gutta

पद्म सम्मान नहीं मिलने से नाराज Jwala-Gutta

- Advertisement -

नई दिल्ली। बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा पद्म सम्मान ने मिलने से नाराज है। खिलाड़ी ने सम्मान न मिलने पर फेसबुक के माध्यम से चयन प्रक्रिया पर सवाल उठाए हैं। जाहिर है कि हर साल पदम सम्मानों की घोषणा के बाद चयन को लेकर सवाल उठते रहे हैं। इस बार यह सवाल बैडमिंटन डबल्स की भारतीय स्टार ज्वाला गुट्टा ने उठाए हैं। देश के लिए डबल्स के कई खिताब जीत चुकीं ज्वाला ने सम्मान नहीं मिलने पर नाराजगी जताई है और चयन की प्रक्रिया पर सवाल उठाएं हैं। ज्वाला इससे पहले भी अपनी टिप्प्णियों को लेकर भी विवादों में आ चुकी हैं।

  • फेसबुक पर जताई नाराजगी 

ज्वाला ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा है- मुझे इस बात पर हमेशा से आश्चर्य होता रहा है कि देश के सबसे प्रतिष्ठित पद्म सम्मानों के लिए आवेदन करना होता है… लेकिन जब एक प्रक्रिया बना ही दी गई है, तो मैंने भी आवेदन कर दिया। मैंने आवेदन इसलिए किया, क्योंकि मुझे लगता है कि मैंने अपने प्रदर्शन से देश को गौरवान्वित किया है और इसलिए मैं इसकी हकदार हूं। मैं अपने देश के लिए 15 वर्षों से खेलती आ रही हूं और कई बड़े टूर्नामेंट जीते हैं। गुट्टा ने आगे लिखा, मुझे लगता है कि इसके लिए केवल आवेदन करना ही पर्याप्त नहीं होता। आपको सिफारिशों की जरूरत होती है। इसकी सिफारिश कि आप इस सम्मान के लिए योग्यता रखते हैं…. लंबी प्रक्रिया चलती है… लेकिन मेरा सवाल यह है कि इस सम्मान के लिए मुझे आवेदन करने और अनुसंशा के लिए अनुरोध करने की जरूरत क्यों है… क्या मेरी उपलब्धियां ही काफी नहीं हैं? मैं पूरे तंत्र के बारे में जानने के लिए उत्सुक हूं। दिल्ली और ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स में लगातार दो पदक काफी नहीं हैं? वर्ल्ड चैंपियनशिप में मेरा मेडल इसके लिए पर्याप्त नहीं है? महिला डबल्स और मिश्रित डबल्स रैंकिंग में मैं शीर्ष-10 में रही, सुपरसीरीज और ग्रांप्री गोल्ड में मेरा प्रदर्शन क्या काफी नहीं है? मैंने 15 बार राष्ट्रीय चैंपियनशिप जीती है।

मैंने भारत में उस समय डबल्स बैडमिंटन की आधारशिला रखी थी, जब इसे कोई भी गंभीरता से नहीं लेता था।  लेकिन क्या यह सब काफी नहीं है, क्योंकि मैं ज्यादा बोलती हूं। क्योंकि मैं अपने विचार खुलकर रख देती हूं। आखिर मुझे यह सम्मान नहीं दिए जाने के पीछे क्या कारण है?…. यदि मेरी इतनी सारी उपलब्धियां काफी नहीं हैं, तो फिर इसके लिए और क्या चाहिए?

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है