चौंकिए मत, मधुमक्खियां भी गर्जना के साथ पैदा कर सकती हैं 1 हजार वोल्ट तक बिजली

नई रिसर्च में हुआ खुलासा, जितना बड़ा झुंड होगा, करंट भी उतना ज्यादा होगा पैदा

चौंकिए मत, मधुमक्खियां भी गर्जना के साथ पैदा कर सकती हैं 1 हजार वोल्ट तक बिजली

- Advertisement -

09हालांकि अभी तक आपने यही सुना है कि मधुमक्खियां (Bees) शहद ही उत्पन्न करती हैं। यह शहद (Honey) शरीर के लिए बहुत लाभदायक होता है। ये मधुमक्खियां फूलों के रस और परागण को एकत्रित कर इसे शहद में तब्दील कर देती हैं। वहीं छत्ते में एक रानी मक्खी होती है जो सारे छत्ते की मधुमक्खियों पर नियंत्रण रखती है और आदेश जारी करती है। पर क्या कभी आपने यह सुना है कि मधुमक्खियां बिजली (Electricity) भी पैदा कर सकती हैं। जी हां मधुमक्खियां एक हजार वोल्ट तक बिजली पैदा कर सकती हैं। यह बात हाल ही में हुई रिसर्च में सामने आई है। शायद आपको यह जानकर यकीन नहीं होगा पर मधुमक्खियां बिजली पैदा करने में मदद कर सकती हैं। इस संबंध में जर्नल साइंस में प्रकाशित नया शोध हमें बताता है कि मधुमक्खियों के झुंड बिजली पैदा करने की क्षमता रखते हैं। रिसर्च में यह भी सामने आया है कि मधुमक्खियां मेघ गर्जना के समान विद्युत आवेश को पैदा कर सकती हैं।

यह भी पढ़ें:जलवायु परिवर्तन के कारण दुनिया से विलुप्त हो जाएंगे 65 प्रतिशत कीड़े

इस संबंध में ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी (Bristol University) के शोधकर्ता मधुमक्खियों की उपयोगिता का एक नया आयाम पेश करता है। इस संबंध में स्टडी के फर्स्‍ट लेखक और जीवविज्ञानी एलार्ड हंटिंग ने सीएनएन से बातचीत में बताया कि यूनिवर्सिटी की टीम विभिन्न जीवों पर रिसर्च कर रही थी। यह रिसर्च टीम पर्यावरण में उपलब्ध स्थिर विद्युत क्षेत्रों का प्रयोग करते हैं। उन्होंने बताया कि इस वायुमंडलीय इलेक्ट्रिसिटी ना केवल मौसम की घटनाओं को इंप्रेस करती है, बल्कि जीवों को उनका भोजन खोजने में भी मदद करती है। इस संबंध में उन्होंने बताया कि फूलों में एक विद्युत क्षेत्र होता है।

bees

bees

इन क्षेत्रों को केवल मधुमक्खियां ही समझ सकती हैं। फूलों के ये विद्युत क्षेत्र मधुमक्खी द्वारा विजिट किए जाने पर बदल सकते हैं और अन्य मधुमक्खियां उस जानकारी का इस्‍तेमाल यह पता लगाने के लिए कर सकती हैं कि क्या किसी फूल (Flower) को विजिट किया गया है। वहीं शोधकर्तााओं ने मधुमक्खियों के झुंड के दौरान पैदा होने वाले करंट को नापने के लिए इलेक्ट्रिक फील्ड पर नजर रखने के लिए एक कैमरे का प्रयोग किया। ये मधुमक्खियां रानी मक्खी के साथ लगभग 12,000 संख्या के साथ उड़ती हैं। शोधकर्ताओं ने लगभग तीन मिनट के लिए करंट वेव को ट्रैक किया। यह करंट 100 से 1000 वोल्ट प्रति मीटर तक था। शोधकर्ताओं ने कहा कि मधुमक्खियों का झुंड जितना बड़ा होगा, वह उतना ही ज्यादा करंट पैदा करेगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है