Covid-19 Update

2,00,282
मामले (हिमाचल)
1,93,850
मरीज ठीक हुए
3,423
मौत
29,881,965
मामले (भारत)
178,960,779
मामले (दुनिया)
×

भाई दूज पर करें यमुना स्नान, मिलेगा यम-यमी का आशीर्वाद

भाई दूज पर करें यमुना स्नान, मिलेगा यम-यमी का आशीर्वाद

- Advertisement -

पांच पर्वों के महापर्व में एक महत्वपूर्ण त्योहार भाई दूज भी माना जाता है। भाई दूज का यह पवित्र त्योहार भाई-बहन के स्नेह को सुदृढ़ करता है। भाई दूज कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाने वाला हिन्दू धर्म का पर्व है जिसे यम द्वितीया भी कहते हैं। भाई दूज में हर बहन रोली एवं अक्षत से अपने भाई का तिलक कर उसके उज्ज्वल भविष्य के लिए आशीष देती है और भाई अपनी बहन को कुछ उपहार देता है। यह पर्व भाई के प्रति बहन के स्नेह को अभिव्यक्त करता है एवं बहनें अपने भाई की खुशहाली के लिए कामना करती हैं।
इस त्योहार के पीछे एक कहानी यह है कि यम देवता ने अपनी बहन यमी (यमुना) को इसी दिन दर्शन दिया था, जो बहुत समय से उससे मिलने के लिए व्याकुल थी। अपने घर में भाई यम के आगमन पर यमुना ने प्रफुल्लित मन से उसकी आवभगत की। यम ने प्रसन्न होकर उसे वरदान दिया कि इस दिन यदि भाई-बहन दोनों एक साथ यमुना नदी में स्नान करेंगे तो उनकी मुक्ति हो जाएगी। इसी कारण इस दिन यमुना नदी में भाई-बहन के एक साथ स्नान करने का बड़ा महत्व है। मान्यता है कि इस दिन यमुना में भाई-बहन के एक साथ स्नान करने से उन्हें यमलोक नहीं जाना पड़ता।
इस पूजा में भाई की हथेली पर बहनें चावल का घोल लगाती हैं उसके ऊपर सिन्दूर लगाकर कद्दू के फूल, पान, सुपारी मुद्रा आदि हाथों पर रखकर धीरे धीरे पानी हाथों पर छोड़ते हुए कुछ मंत्र बोलती हैं जैसे “गंगा पूजे यमुना को यमी पूजे यमराज को, सुभद्रा पूजे कृष्ण को, गंगा यमुना नीर बहे मेरे भाई की आयु बढ़े”। इसी प्रकार कहीं इस मंत्र के साथ हथेली की पूजा की जाती है ” सांप काटे, बाघ काटे, बिच्छू काटे जो काटे सो आज काटे” इस तरह के शब्द कहे जाते हैं।

इस दिन बहनें भाई के सिर पर तिलक लगाकर उनकी आरती उतारती हैं और फिर हथेली में कलावा बांधती हैं। भाई का मुंह मीठा करने के लिए उन्हें माखन मिश्री खिलाती हैं। संध्या के समय बहनें यमराज के नाम से चौमुख दीया जलाकर घर के बाहर रखती हैं। इस समय ऊपर आसमान में चील उड़ती दिखाई दे तो बहुत ही शुभ माना जाता है।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है