×

Smart Cities को स्मार्ट बनाने के प्रयासों में BSNL

Smart Cities को स्मार्ट बनाने के प्रयासों में BSNL

- Advertisement -

धर्मशाला। भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) दूरसंचार सेवाओं में एक भरोसे का प्रतीक बन चुका है। बीएसएनएल अब इस प्रतिस्पर्धा के दौर में नेक्स्ट जनरेशन नेटवर्क (एनजीएन) लेकर आया है, जिससे दूरसंचार के साथ साथ नेटवर्किंग की भी अत्याधुनिक सुविधा उपभोक्ताओं को मिलेगी। देशभर में अपनी सफलता के बाद ही बीएसएनएल ने देश की स्मार्ट सिटीज को मूर्त रूप देने के लिए अपनी दावेदारी पेश की है। यह शब्द बीएसएनएल बोर्ड दिल्ली के सीएफए निदेशक एनके गुप्ता, एनजीएन कंज्यूमर्स बोर्ड के सीजीएम एके जैन ने धर्मशाला में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान कहे।


  • हिमाचल, कर्नाटक, बिहार और पंजाब की स्मार्ट सिटीज को लेकर हुआ मंथन

इन दोनों का कहना था कि देशभर में 100 शहरों को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित किए जाने की योजना है।इसी के मद्देनजर बीएसएनएल ने इन स्मार्ट सिटीज के निर्माण में अपनी सेवाएं देने की योजना तैयार की है। अन्य विभागों और कुछ अन्य एजेंसियों के सहयोग से बीएसएनएल इन स्मार्ट सिटिस का निर्माण करेगा। एनजीएन के साथ ही बीएसएनएल ने खुद को इसके लिए तैयार किया है।

स्मार्ट सिटीज में नेटवर्क सबसे अहम पहलू होगा और बीएसएनएल इसपर विशेष ध्यान दे रहा है। उन्होंने बताया कि इसी बात को ध्यान में रखते हुए बीएसएनएल ने हिमाचल के साथ साथ कर्नाटक, बिहार और पंजाब के बीएसएनएल उच्चाधिकारियों से एक बैठक की और अपनी आगामी रणनीति पर चर्चा की। बैठक में बीएसएनएल की सेवाओं को और अधिक बेहतर बनाने पर और पेश आ रही समस्याओं पर भी विचार विमर्श किया गया। बीएसएनएल अधिकारियों ने बताया कि अब निगम लाभ कमा रहा है। इसी के चलते जीएसएम सेवाओं में बीएसएनएल एक बड़ा निवेश करने की तैयारी में है। कर्मचारियों की कमी से निपटने के लिए बीएसएनएल ने ब्रॉडबैंड सेवाओं में नियंत्रित तरीके से आउटसोर्सिंग प्रक्रिया शुरू कर दी है। प्रतिस्पर्धा के इस दौर में निगम कर्मचारियों का खर्च वहन करने की बजाए आउटसोर्स से ही बेहतर सुविधाएं देने का प्रयास करेगा। अभी तक जो प्रयास इस दिशा में किए गए हैं, उसके सार्थक परिणाम सामने आये हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है