Expand

तो हाईकोर्ट में घसीटूंगा BJP को

तो हाईकोर्ट में घसीटूंगा BJP को

- Advertisement -

सोलन। यहां 23 नवंबर को भाजपा चार्जशीट कमेटी अध्यक्ष एवं विधायक सुरेश भारद्वाज की ओर से लगाए गए नौतोड़ भूमि अपने नाम करने के आरोपों को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री धनीराम शांडिल ने खारिज किया है। भारद्वाज ने शांडिल पर नौतोड़ भूमि का गलत तरीके से अपने परिजनों के नाम तबादला करने का आरोप लगाया था। शांडिल ने सोलन में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यदि उनके उपर लगाए गए आरोप को बीजेपी चार्जशीट के माध्यम से राज्यपाल को सौंपेगी तो उनके खिलाफ उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाएंगे।

  • बोले शांडिल, जब यह जमीन दी गई, तब देश की सेवा में था

shandil-3उन्होंने कहा कि वह जमीन उनके परिजनों को उनके सेना में रहते हुए पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी के समय भूमिहीनों को भूमि आवंटित करने की नीति के तहत गांव बशीला तहसील कंडाघाट, जिला सोलन में दी गई थी।

शांडिल ने इस नौतोड़ जमीन के सभी साक्ष्य भी संवाददाता सम्मेलन में रखे। उन्होंने कहा कि जिस समय यह जमीन उन्हें दी गई थी वह देश की सेवा कर रहे थे राजनीति में नहीं थे। जब वह सेना से सेवानिवृत्त होकर आए तो उन्हें पता लगा कि जो जगह उन्हें दी गई है वहां कुछ जगह में श्मशानघाट बनाया गया था।

  • नौतोड़ भूमि हड़पने के आरोपों पर कैबिनेट मंत्री ने किया पलटवार

जो भूमि मुझे तबादले में मिली है वह पूर्व में आवंटित भूमि की किस्म की ही है और उसी खसरा नंबर में स्थित है। इसमें निम्न किस्म तथा प्राईम shandil-4लोकेशन का प्रश्न ही नहीं उठता। बल्कि इस तबादले में और कहीं आस-पास भूमि उपलब्ध न होने के कारण उन्हें इस छोटे से टुकड़े को तीन हिस्सों में बंटा हुआ लेना पड़ा। उन्होंने कहा कि यह भूमि तबादला नियमानुसार सरकार की नौतोड़ पॉलिसी के तहत हुआ है। जिसमें न्यायालय के निर्णय की कोई अवहेलना नहीं हुई है।

बीजेपी के आरोप पूरी तरह से तथ्यहीन, बेबुनियाद तथा एक ईमानदार छवि के व्यक्ति को बदनाम करने की साजिश है। उन्होंने चेताया कि यदि बीजेपी अपनी चार्जशीट में इस मामले को राज्यपाल के समक्ष भेजेगी तो वह भी कानून का दरवाजा खटखटाएंगे। उसमें दूध का दूध व पानी का पानी हो जाएगा।

  • नियमानुसार ही करवाया गया भूमि का तबादला

इस दौरान शांडिल कई बार भावुक भी हो उठे और उन्होंने कहा कि मैने तो अपने पूरे जीवन में कभी 5 रुपए का लेन-देन भी गलत तरीके से नहीं किया। मैं भगवान से डरता हूं परन्तु न जाने किस स्वार्थ के लिए उनको बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने विपक्षी पार्टी से भी प्रार्थना की है कि वह तथ्य के साथ बात करें। हवा में बातें न करे, बेवजह किसी को बदनाम न किया जाए।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है