Covid-19 Update

1,58,472
मामले (हिमाचल)
1,20,661
मरीज ठीक हुए
2282
मौत
24,684,077
मामले (भारत)
163,215,601
मामले (दुनिया)
×

OMG! दिसंबर में बने Bridge की क्या हुई हालत, एक ही माह में हिल गया

OMG! दिसंबर में बने Bridge की क्या हुई हालत, एक ही माह में हिल गया

- Advertisement -

कुल्लू। चंडीगढ़-मनाली नेशलन हाईवे-21 ब्यास-पार्वती नदी पर भुंतर में बना डबल स्टोरी ब्रिज भारी भरकम वाहनों की आवाजाही से हिल गया है। वैसे तो यह पुल दिसंबर 2017 यानी  पिछले महीने ही बनकर तैयार हुआ था, डीसी कुल्लू ने इसका निरीक्षण कर जनता के हवाले कर दिया था, लेकिन अब इस पुल की प्लेटे हिल गई है। यह पुल डबल स्टोरी है जो पुराने बैली ब्रिज से काफी मजबूत है। पुराने पुल ने 23 वर्ष वाहनों का भार उठाया जबकि वह पुल सिंगल स्टोरी था। सबसे बड़ा सवाल यह है कि डबल स्टोरी पुल केवल एक-डेढ़ महीने में ही कैसे हिल गया। इसका सबसे बड़ा कारण फोरलेन निर्माण की खुदाई से निकाले जा रहे पत्थरों से भरे वाहन है जो इसी पुल के ऊपर से गुजर रहे हैं। इन वाहनों की वजह से भुंतर के डबल स्टोरी ब्रिज की लोहे की गाडरें व प्लेटें हिल गई है। कई स्थानों पर पुल के नट-बोल्ट ढीले पड़ गए हैं तो वहीं प्लेटों के नट-बोल्ट टूट भी चुके हैं।


वाहनों माल भरते समय कर रहे नियमों की अनदेखी

इस पुल की भार की क्षमता 28 टन उठाने की है और एक समय में एक ही वाहन को ले जाने की अनुमति है । लेकिन इन नियमों को कौन मानता है यहां भार मापने का विभाग की ओर से कोई इंतजाम नहीं हैं कि कितना भारी माल गाड़ियों में जा रहा है। यह पुल अस्थाई रूप से यहां लगाया गया है, इस पुल के स्थान पर बाक्स सैल पुल बनना है, इसका काम भी अवार्ड हुआ है लेकिन विभाग और ठेकेदार के बीच कौन सा पेंच फंसा है जो इसका कार्य शुरू नहीं हो रहा है। जबकि प्रशासन और विभाग को इस स्थान पर स्थाई जल्दी यह पुल तैयार करवा देना चाहिए। जाहिर है कि चंडीगढ़- मनाली नेशनल हाइवे पर बना यह बैली ब्रिज काफी महत्वपूर्ण है वहीं नेशनल हाइवे, एक्सईएन अनिल परमार ने बताया कि भुंतर बैली ब्रिज पर से एक समय में एक ही वाहन और 28 टन भार से ऊपर वाहन ले जाने की अनुमति नहीं है। विभाग भारी वाहनों को ले जाने वालों पर शिकंजा कसा जाएगा। पुल का निरीक्षण कर तुरंत इस की रिपेयर की जाएगी।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है