Covid-19 Update

2,04,887
मामले (हिमाचल)
2,00,481
मरीज ठीक हुए
3,495
मौत
31,329,005
मामले (भारत)
193,701,849
मामले (दुनिया)
×

आफत की बारिश : भूस्खलन से कई मार्ग हुए बंद, नदी-नाले उफान पर

आफत की बारिश : भूस्खलन से कई मार्ग हुए बंद, नदी-नाले उफान पर

- Advertisement -

टीम/हिमाचल अभी अभी। बारिश ने पूरे प्रदेश में कहर मचा दिया है। रविवार रात से लगातार हो रही बारिश सोमवार को भी जारी है। भूस्खलन से जहां प्रदेश के कई मार्ग बंद हो चुके हैं वहीं नदी-नाले भी उफान पर हैं। प्रदेश के कई जिलों में स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया है।  लगातार बारिश शिमला-चंडीगढ़ मार्ग बंद गया है। मार्ग बंद होने के कारण  राजधानी शिमला में सोमवार को दूध और ब्रेड की सप्लाई भी नही पहुची है। राजधानी में बारिश से जगह-जगह पेड़ और लहासे  गिरने का सिलसिला जारी है। कई गाड़ियां भी भूस्खलन में दब गई है। परवाणु के निकट नेशनल हाईवे अवरुद्ध हो गया है।

स्थाना पंचायत में पहाड़ी दरकी, बादल फटने की आशंका

फतेहपुर। उपमंडल फतेहपुर की पंचायत स्थाना के गांव छबड़ में पहाड़ी दरक गई है। यहां पर बादल फटने शंका जताई जा रही है। बताया जा रहा है कि यहां पर  फसलों के बहने की सूचना है वहीं पांच  मकानों को खतरा पैदा हो गया है। लगातार मिटी का मलबा वह रहा है । घरों के पास आसपास अफरा तफरी का माहौल है। यहां पर रामलाल, राजकुमार, गोरखु राम शिब कुमार, निबू राम के पांच  मकानों पर खतरा मंडरा रहा है। सुबह तीन बजे से ये परिवार घर छोड़ कर कहीं और शरण लिए हुए है। सूचना मिलते ही प्रशासन ने गांव की रुख कर लिया है। फतेहपुर में भारी  व मूसलाधार बारिश से हर तरफ  नालों में बाढ़ आ गई है। जिस कारण कई गांवों में तबाही मची है। जहां-जहां नुकसान हुआ है वहां बचाव कार्य के लिए दल पंहुच रहे है। छवड़ की पहाड़ी पर बादल फटने से भारी मलबा नीचे की तरफ आया है और कई गांवों को नुकसान पंहुचने बाला  है।
घटनाओं का पता चलते ही बचाव विभाग को घटनास्थल के लिए रवाना कर दिया गया है और जानकारी जुटाई जा रही है । अभी तक कोई जान मान नुकसान की जानकारी नही आई है। उधर  राज्य मार्ग 27 जसूर – धमेटा से तलवाड़ा जाने बाला रोड खटियाड़  व घाटी बैरियर के पास पहाड़ी गिरने के कारण बंद हो चुका है। वहीं खटियाड़  मेन बजार के पास बांस का झुंड बिजली की तारों पर गिरने से  बिजली गुल हो गई है।  अभी खटियाड़  के पास कैची मोड़ पर मलबा गिरने का सिलसिला जारीहै। पौंग बांध सुरक्षा मे तैनात डीएसपी  ने बताया कि पुलिस के दोनों बैरियरों के मध्य गिरे  मलबे को हटा दिया गया है मगर खटियाड़ के समीप रास्ता बंद है जिस के लिए एसडीएम फतेहपुर को सूचना दी गई है।वही एसडीएम फतेहपुर बलवान चंद ने बताया  की सूचना मिलते ही संबंधित विभागों की टीमें रवाना हो चुकी हैं । जल्द ही सड़क पर आवाजाही शुरु हो जाएगी ।

मंडी में झुग्गियां हुई जलमग्न, एक मकान गिरा

मंडी  में ब्यास नदी के जलस्तर में  भारी इजाफा हुआ है। लारजी और पंडोह डैम से नदी में भारी पानी  छोड़ा गया है। जिला प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी कर लोगों को नदी-नालों के नजदीक न जाने की सलाह दी है। जलस्तर बढ़ने से मंडी शहर की झुग्गियां भी जलमग्न हो गई है। इसके बाद इन में रहले वाले लोग खुले आसमान के नीचे आ गए  हैं। ब्यास नदी इस वक्त  खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। पंचवक्त्र मंदिर के प्रांगण तक पानी पहुंच गया है। जिले के अन्य नदी-नाले भी पूरे उफान पर है। मंडी शहर के सैण मोहल्ले में  मकान गिर गया है। बल्हघाटी में जल भराव हो रहा है। बारिश के कारण अधिकतर सम्पर्क मार्ग भी बन्द हो गए हैं, जिससे लोगों को को आने जाने में हो रही परेशानी  हो रही है। उधर, प्रशासन ने लोगों से ऐहतियात बरतने को कहा है।

दर्जनों पेड़ गिरने से सड़के अब तक अवरुद्ध

उपमंडल गोहर आसपास के क्षेत्रों में रात भर से हो रही मूसलाधार बारिश से यहां के नदी-नाले उफ़ान पर है। छोटे छोटे नालों ने भी विक्राल रूप धारण कर लिया है। बग्गी से चैलचौक तक का सड़क मार्ग पेड़ ब ल्हासे गिरने से  कई जगह पर बंद होने से गाड़ियों की आवाजाही रुक गई है। कोट-देवीदड़ सड़क भी जेल के पास ल्हासा गिरने से सुबह से ही बंद है। लोकनिर्माण विभाग की एक टीम रवाना कर दी गई है सड़क मार्ग को जल्दी ही खुलवा दिया जाएगा। पानी के तेज बहाव के कारण उपमंडल गोहर की दर्जनों सड़कें बंद हो गई है। क्षेत्र के चैल चौक,गणेश चौक, गोहर व अन्य इलाकों से भारी बारिश होने का समाचार है। एसडीएम गोहर अनिल भारद्वाज ने बताया कि उपमंडल के सभी विभागों को अलर्ट कर दिया गया है।

खोखन नाला व पागल नाला व ने मचाई भारी तबाही, भूंतर में दुकानों में घुसा मलबा 

कुल्लू जिला में भारी बारिश के कारण जनजीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त  हुआ है और जिला के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश के कारण  यातायात पूरी तरह से प्रभावित हुआ है और भुंतर के समीप खोखन नाला में बाढ़ आई है, जिससे खोखन नाला के आसपास बने मकानों व दुकानों का भारी नुक्सान हुआ है। भुंतर शहर में सैंकड़ों दुकानों में मलबा घुसा हुआ है और दुकानदारों को लाखों का सामान नष्ट हुआ है और सड़कों पर नाला बह रहा है जिससे यातायात प्रभावित हुआ है। भुंतर शहर में नालियों की निकास का उचित प्रबंध न  होने के कारण सड़कों पर भारी मलबा व दलदल बना हुआ है। पैदल चलने बाले लोगो को सबसे ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं सैंज घाटी के पागल नाला में बाढ़ बाने लारजी व सैंज के बीच यातायात ठप है। सड़क के दोनों ओर कई वाहन खड़े है।
लोगों को सेब सब्जियां मंडी तक पहुंचाने के लिए भारी परेशानी हो रही है। लोक निर्माण विभाग की मशीनरी सड़क वहाली के कार्य में जुट गई है। स्थानीय निवासी भुंतर दीपक ने कहा कि सुबह करीब सात बजे के समय खोखन नाला में बाढ़ आने से रौद्र रूप धारण किया और खोखन नाला के आसपास बने मकानों व दुकानों को भारी नुक्सान हुआ है।उन्होंने कहाकि बाढ़ से भुंतर शहर में सैंकड़ो दुकानों में मलवा घुसा है और घरों में भी  मलबा घुसने से स्थानीय लोगों को दिक्कत का सामना करना पड़ा है। जिससे खोखन नाले में अवैध रूप स निर्माण के कारण नाले में निकासी का उचित जगह ना होने के कारण बाढ़ ने सड़क पर नाले का रूप धारण किया है।

कुनाह पुल को खतरा, कई डंगे गिरे

हमीरपुर जिला में डिडवीं-टिक्कर के साथ लगते कुनाह पुल के पास एनएच 103 को मूसलाधार बारिश के चलते ख़ासा नुक़सान पहुंचा है। कुनाह खड्ड भी उफान पर है। क़ाबिलेज़िक्र है कि कुछ वर्ष पूर्व डिडवीं-टिक्कर के पास स्थित कुनाह खड्ड पर बना पुल बरसात के कारण दरारें पड़ने के कारण यातायात के लिए बंद कर दिया गया था । बाद में मरम्मत के बाद इसे चालू कर दिया गया। इस बरसात में इस पुल के अस्तित्व पर फिर से ख़तरा मंडराने लगा है। हमीरपुर जिला में डुग्गा पुल का काम चलने के कारण लोगों को पहले से ही परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अब कुनाह खड्ड पर डिडवीं टिककर के पास यातायात बाधित होने पर भीटा, घुमारवीं व बडसर के लिए यातायात प्रभावित हो सकता है। पुल के साथ कई डंगे बारिश के कारण गिर चुके हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है