×

Paonta में पक्की गलियों में डाल दिया 10 लाख का गटका, RTI में हुआ खुलासा

Paonta में पक्की गलियों में डाल दिया 10 लाख का गटका, RTI में हुआ खुलासा

- Advertisement -

पांवटा साहिब। नगर परिषद पांवटा साहिब में बड़ा घोटाला हुआ है। RTI द्वारा ली गई जानकारी में बीते वर्ष शहर के 8 वार्डों में 10 लाख रुपए खर्च कर 661 ट्राली निर्माण सामग्री (गटका) डाली गई है, जिसके लिए न तो कोई टेंडर हुआ है और न ही एमफार्म लगाया गया है। केवल मात्र पार्षदों के लेटर हेड पर ट्रालियों की संख्या लिखकर दे दी गई और ठेकेदार के नाम 10 लाख की पेमेंट भी कर दी, जबकि शहर के सभी वार्डों में अधिकतर गलियां पक्की हैं, जिससे साफ तौर पर लग रहा है कि नगर परिषद में 8 पार्षदों द्वारा 10 लाख का गटका गटक लिया है।


इस सारे मामले का खुलासा तब हुआ जब RTI एक्टिविस्ट व मजदूर नेता प्रदीप चौहान ने बीते वर्ष वार्ड में डाली गई गटका का RTI के द्वारा ब्यौरा लिया। इसमें सूचना प्राप्त हुई थी कि बिना टेंडर, बिना M फार्म के 661 ट्रालियां में गटका डाल दिया गया, जिसके लिए मात्र पार्षदों से लेटर हेड पर लिखित आवेदन ले लिए तथा उसके बाद ठेकेदार को पूरी पेमेंट भी कर दी गई।

गुपचुप बैठक कर ले लिया फैसला

RTI के खुलासे में सामने आया है कि बीते वर्ष हुई बरसात के दौरान शहर के 8 वार्डों में गलियों की स्थिति खराब होने के बाद एक गुपचुप बैठक में फैसला लिया गया कि बिना टेंडर ही पिछले रेट पर वार्डों में गटका बिछा दिया जाए और फिर शुरू हुई 10 लाख के घोटाले की रणनीति।

इस पूरे घोटाले में पार्षदों द्वारा केवल मात्र सत्यापित पत्र देकर ठेकेदार के नाम 9 लाख 91 हजार 150 रुपए की धनराशि रिलीज भी कर दी गई, जबकि शहर के वार्ड नंबर 5, 7 व 10 में एक भी गटके का ट्रैक्टर नहीं डाला गया है। इतना ही नहीं RTI द्वारा प्राप्त दस्तावेज़ों में कई वार्डों में ट्रैक्टरों के चक्करों को लेकर भी साफ तौर पर धांधली दिखाई दे रही है, जिसमें पार्षदों द्वारा संख्या को ओवरराइट कर बदला गया है।

मामले की हो निष्पक्ष जांच

इस सारे मामले में बड़े घोटाले का आरोप लगाते हुए कांग्रेसी पार्षद धनवीर कपूर ने कहा कि मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिये। उधर जब नप अध्यक्ष कृष्णा धीमान से पूछा गया तो उन्होंने कुछ भी कहने से मना कर दिया। वहीं उसके बाद इस बाबत नगर परिषद उपाध्यक्ष नवीन शर्मा भी सारे मामले को टालते रहे।

उधर इस सारे मामले में स्थानीय विधायक सुखराम चौधरी का कहना है कि उन्हें इस बारे कोई जानकारी नहीं है। मामले की जांच की जाएगी और यदि कोई धांधली पाई गई तो उचित कार्यवाही होगी। वहीं, SDM पांवटा साहिब L.R. Verma ने कहा कि RTI द्वारा सूचना मांगी गई थीं। अगर इस मामले में शिकायत आई है तो निष्पक्ष जांच की जाएगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है