Covid-19 Update

1,98,583
मामले (हिमाचल)
1,91,025
मरीज ठीक हुए
3,379
मौत
29,510,410
मामले (भारत)
176,764,688
मामले (दुनिया)
×

Mukesh के राज्यपाल को सौंपे ज्ञापन पर बोली BJP, ओच्छी राजनीति कर रहा विपक्ष

Mukesh के राज्यपाल को सौंपे ज्ञापन पर बोली BJP, ओच्छी राजनीति कर रहा विपक्ष

- Advertisement -

शिमला। कांग्रेस नेता मुकेश अग्निहोत्री (Mukesh Agnihotri) द्वारा राज्यपाल को सौंपे ज्ञापन को बीजेपी (BJP)के तीन दिग्गजों ने हास्यस्पद एवं झूठ का पुलिंदा करार दिया है। उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर, वन एवं परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह ठाकुर तथा पूर्व बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सत्ती ने यह बड़े दुर्भाग्य की बात है कि जब पूरा विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है तो कांग्रेस के नेता ओच्छी राजनीति करने पर उतारू हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना (Corona) महामारी की रोकथाम के लिए प्रदेश सरकार द्वारा किए गए प्रयासों की जहां पीएम नरेन्द्र मोदी ने प्रशंसा की है, लेकिन कांग्रेस (Congress) के नेता को इसमें भी राजनीति सूझ रही है। उन्होंने कहा कि आज जब इस महामारी के विरूद्ध हम सभी को एकजुट होकर लड़ने की आवश्यकता है तो मुकेश अग्निहोत्री केवल राजनीतिक स्वार्थ के लिए इस तरह के हथकंडे अपना रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Mukesh ने राज्यपाल को लिखा पत्र, सरकार से पूछा- क्या जरूरी था लाखों के Mobile खरीदना

उन्होंने कहा कि सीएम जय राम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) के नेतृत्व में वर्तमान प्रदेश सरकार ने इस महामारी से निपटने के लिए अनेक ऐतिहासिक निर्णय लिए जिसका परिणाम यह है कि आज हिमाचल प्रदेश देश के उन कुछ एक राज्यों में है, जहां कोरोना के मामले सबसे कम हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने जहां एक ओर तुरंत प्रदेश की सीमाएं सील कर कर्फ्यू लागू किया, वहीं सरकार ने यह भी सुनिश्चित बनाया कि प्रदेश के किसान व बागवान प्रभावित न हों। उन्होंने कहा कि सरकार ने कोरोना योद्धाओं के प्रोत्साहन तथा किसी अप्रिय घटना की स्थिति में उनके परिजनों के लिए 50 लाख रुपये की अनुग्रह राशि प्रदान करने का निर्णय लिया।


यह भी पढ़ें: हिमाचल का एक SDM जो साइकिल पर होम क्वारंटाइन लोगों पर रख रहा नजर

बिक्रम सिंह, गोविन्द सिंह ठाकुर तथा सतपाल सत्ती ने कहा कि जहां तक इन्दिरा गांधी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. मुकन्द को हटाए जाने का प्रश्न है तो यह एक प्रशासनिक प्रक्रिया है, जिस पर विपक्ष के नेता को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश के कर्मचारियों, पेंशनरों तथा चिकित्सकों व पैरा मेडिकल स्टाफ के अनेक संगठनों ने स्वेच्छा से एक दिन का वेतन कोविड-19 फंड में देने का निर्णय लिया था। उन्होंने कहा कि यह बड़े खेद की बात है कि मुकेश अग्निहोत्री इस गंभीर मुद्दे पर भी राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जहां तक मंडी जिले के सरकाघाट से लाए गए कोरोना मरीज के अंतिम संस्कार का प्रश्न है तो इसको पूरे प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए किया गया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है