Covid-19 Update

58,598
मामले (हिमाचल)
57,311
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,095,852
मामले (भारत)
114,171,879
मामले (दुनिया)

डरा हुआ है पाक: बिलावल भुट्टो बोले- पहले हम श्रीनगर लेने की बात करते थे, अब…

डरा हुआ है पाक: बिलावल भुट्टो बोले- पहले हम श्रीनगर लेने की बात करते थे, अब…

- Advertisement -

नई दिल्ली। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के चेयरमैन बिलावल भुट्टो जरदारी (Bilawal Bhutto Zardari) ने मंगलवार को पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (Imran Khan) को अपने निशाने पर लेते हुए एक बड़ा बयान दिया है। बिलावल का यह बयान जहां एक तरफ इमरान खिलाफत करता है, वहीं दूसरी तरफ इससे पाकिस्तान (Pakistan) के डरे होने का भी सबूत मिलता है। दरअसल बिलावल ने मीडिया से कहा- पहले हम भारत से श्रीनगर (Srinagar) छीन लेने की बात करते थे, लेकिन अब हालात ये हो गए हैं कि हमें मुजफ्फराबाद (Muzaffarabad) बचाने के लाले पड़ गए हैं। उन्होंने इस दौरान एक बार फिर पीएम इमरान और पाक आर्मी की मिलीभगत पर तंज़ कसते हुए कहा कि इमरान खान इलेक्टेड नहीं सिलेक्टेड पीएम हैं। सिलेक्टेड और सिलेक्टर्स से मुल्क की जनता अब जवाब मांग रही है।

यह भी पढ़ें :-परमाणु धमकी के बीच पाकिस्तान के ही एयरस्पेस से भारत लौटे पीएम मोदी

उन्होंने आगे कहा कि अब देश के सामने ये बात साफ हो गई है कि ये (इमरान खान) सरकार जितनी नाकाम साबित हुई है, पहले कोई हुकूमत इतनी नाकाम नहीं हुई। आपने लोकतंत्र के साथ जो किया, उसे हमने बर्दाश्त कर लिया। आपने अर्थव्यवस्था तबाह कर दी, हमने वो भी सहन कर लिया। आप सोते रहे और जब जागे तो विरोधियों को दबाने के लिए। आप सोते रहे और मोदी ने कश्मीर छीन लिया। पहले हमारी कश्मीर पॉलिसी क्या होती थी? हम प्लान बनाते थे कि श्रीनगर कैसे लेंगे? अब सिलेक्टेड पीएम खान की वजह से यह हालात हो गए हैं कि सोचना ये पड़ रहा है कि हम मुजफ्फराबाद कैसे बचाएंगे?

पीपीपी चेयरमैन ने आगे कहा कि क्या है हमारी फॉरेन पॉलिसी? क्या है हमारी आर्थिक नीति? ये होता है नतीजा जब एक सिलेक्टेड (फौज) एक शख्स को सिलेक्ट (इमरान) को बैठाती है। यह सिलेक्टेड आदमी अपने सिलेक्टर्स को खुश रखने के फेर में मुल्क को तबाह कर देता है। अवाम महंगाई की सुनामी में डूब रही है। कश्मीर हमारे हाथों से चला गया। सवाल ये है कि हम अपराधी किसे ठहराएं? सिलेक्टेड को या सिलेक्टर्स को? कोई भी क्षेत्र देख लीजिए। हर जगह ये कठपुतली (इमरान) नाकाम हुई है। अब हम दोनों से हिसाब लेंगे।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है