Expand

बर्फ के नाम पर लुट गया सरकारी खजाना

बर्फ के नाम पर लुट गया सरकारी खजाना

- Advertisement -

लोकिन्दर बेक्टा/शिमला।बीजेपी के मुख्य प्रवक्ता व पार्टी की चार्जशीट कमेटी के सदस्य डॉ. राजीव बिंदल ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार और इसके प्रमुख नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार के 4 वर्ष भ्रष्टाचार और बदला-बदली में ही बीते हैं। उनका आरोप था कि सरकार के नाक तले खुलकर भ्रष्टाचार हो रहा है। डॉ. बिंदल ने प्रेस कांफ्रेंस में आरोप लगाया कि जिले के वरिष्ठ नेताओं से लेकर निचले स्तर तक नेता कथित तौर पर भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। कांग्रेस नेताओं को बड़े पैमाने पर लाभ पहुंचाया गया है।

  • bjp-pc-5बिंदल ने कांग्रेस सरकार पर जड़े भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप
  • जहां बर्फ नहीं गिरती वहां भी हुए बर्फ काटने के टेंडर, पेमेंट भी रिलीज
  • शिमला के कई हलकों में 15 दिन से 2 महीने में उखड़ गईं नई सड़कें

उन्होंने आरोप लगाया कि जिले के कई हलकों में बर्फ गिरी या नहीं गिरी, लेकिन बर्फ काटने के लिए न केवल टेंडर हुए, बल्कि बर्फ काटने को लेकर पेमेंट भी हो गईं। जबकि असल में बर्फ गिरी ही नहीं। यही नहीं जहां बर्फ गिरती भी नहीं, वहां भी बर्फ काटने के टेंडर हुए। डॉ. बिंदल ने कहा कि बर्फ काटने का यह कथित फर्जी खेल रामपुर, रोहड़ू, जुब्बल-कोटखाई, शिमला ग्रामीण और चौपाल और ठियोग हलके में हुआ है। उनका कहना था कि यह कथित घोटाला बीजेपी की चार्जशीट में शामिल होगा।
डॉ. बिंदल ने कहा कि आज शिमला जिले के 8 विधानसभा हलकों के बीजेपी नेताओं और प्रमुख कार्यकर्ताओं के साथ उनकी अहम बैठक हुई। इसमें राज्य सरकार के खिलाफ तैयार की जा रही चार्जशीट को लेकर विस्तार से चर्चा हुई। शिमला जिले में किस स्तर पर भ्रष्टाचार है, उस पर तथ्यों सहित सदस्यों ने विचार रखे। बैठक में सड़कों की टारिंग, शराब की तस्करी, अवैध खनन, राज्य सहकारी बैंक में भर्ती समेत कई विभागों में कथित भ्रष्टाचार के मामले सामने आए और इन पर तथ्यों के साथ बात हुई। बैठक में बीजेपी की चार्जशीट कमेटी के अध्यक्ष विधायक सुरेश भारद्वाज भी विशेष रूप में मौजूद थे।

15 दिन से 2 महीने में उखड़ गईं नई सड़कें

डॉ. बिंदल ने आरोप लगाया कि शिमला जिले के रामपुर, रोहड़ू, चौपाल, जुब्बल-कोटखाई, शिमला ग्रामीण में 2016 में सड़कों की टारिंग हुई, लेकिन यह टारिंग 15 दिन से लेकर 2 माह के बीच उखड़ गई और आज हालत यह है कि इनमें वाहन चलाने में लोगों को दिक्कत हो रही है। उनका कहना था कि टारिंग के ये कार्य कांग्रेस के चहेते ठेकेदारों ने किए हैं और राजनीतिक संरक्षण में ही ठेके दिए गए। उन्होंने कहा कि इससे स्पष्ट हो गया है कि शिमला जिले में ठेकेदार ही लोक निर्माण विभाग चला रहे हैं और इसकी तस्दीक सीएम वीरभद्र सिंह ने खुद रोहड़ू में की थी। यही नहीं सीएम ने वहीं जनसभा में इसके लिए न केवल विधायक, बल्कि उन ठेकेदारों को भी लताड़ लगाई।

विधायक के संरक्षण में बन रहे अवैध भवन

बीजेपी के मुख्य प्रवक्ता ने कहा कि हाटकोटी में पिछले दिनों एक अवैध भवन गिरा था और इसकी चपेट में आने से 3 लोगों की मौत हो गई, लेकिन इस भवन के मालिक के खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। इस भवन में बिजली पानी का कनेक्शन लगा था और इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। उनका आरोप था कि स्थानीय विधायक के संरक्षण के कारण आजतक कोई कार्रवाई नहीं हुई। उनका कहना था कि हाटकोटी में 3-4 और ऐसे अवैध भवन हैं और उन पर भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। उन्होंने मार्केटिंग बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. सुभाष मंगलेट पर भी आरोप लगाया। डॉ. बिंदल ने कहा कि डॉ. मंगलेट ने चौपाल हलके में सरकारी भूमि पर 5 मंजिला अनाधिकृत भवन बनाया और उसमें नेरवा के 5 सरकारी विभाग शिफ्ट करवा दिए।

bjp-pc-2शिमला ग्रामीण में कॉलेज भवन के नाम पर हेराफेरी

डॉ. बिंदल ने कहा कि मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के विधानसभा हलके में ब्लाक कांग्रेस कमेटी शिमला ग्रामीण के अध्यक्ष के भवन में सरकारी कॉलेज खोला गया। उनका कहना था कि इस भवन का किराया 70 हजार रूपए मासिक है, जबकि वहां 20 हजार रूपए में उतना एरिया किराए पर मिलता है। वहां के लोगों ने कॉलेज चलाने के लिए मुफ्त में जगह देने की भी पेशकश की थी, लेकिन इसके बाद भी ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष के भवन में कॉलेज चलाया और उस भवन की एनओसी भी लोक निर्माण विभाग से नहीं ली गई। बीजेपी नेता ने रामपुर में अवैध खनन का आरोप लगाया और कहा कि जब शिकायतें हुई तो रात में एक विशेष कंपनी के ट्रकों में रेत की और अन्य खनन सामग्री ढोई जा रही है।

सेब की मार्केटिंग फीस में भी गोलमाल

उन्होंने सेब पर लगने वाली मार्केटिंग फीस में गोलमाल का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि तंबू गाड़ कर बैठे आढ़ती सेब बागवानों के नाम पर ही राज्य से बाहर सेब ले गए और इससे राजस्व का चूना सरकार को लगा। उन्होंने चौपाल में उत्तराखंड से शराब की तस्करी का आरोप लगाया और कहा कि सरकार के संरक्षण में यह फलफूल रहा है। उन्होंने कहा कि परवाणु-सोलन फोर लेन के कार्य में निकल रहे पत्थर की रॉयल्टी की कोई वसूली नहीं हो रही है। उनका कहना था कि बीजेपी की चार्जशीट कमेटी की बैठक में सरकार के खिलाफ भ्रष्टाचार के जो आरोप सामने आए हैं, उन्हें कमेटी की बैठक में रखा जाएगा और इसके बाद चार्जशीट तैयार की जाएगी।

 

https://youtu.be/nwv5Vi_HBiQ

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है