Covid-19 Update

2,05,383
मामले (हिमाचल)
2,00,943
मरीज ठीक हुए
3,502
मौत
31,470,893
मामले (भारत)
195,725,739
मामले (दुनिया)
×

पलटवारः BJP पार्षदों को खरीदने के लिए Congress ने रची थी साजिश

पलटवारः BJP पार्षदों को खरीदने के लिए Congress ने रची थी साजिश

- Advertisement -

सुरेश भारद्वाज का आरोप, आपसी लड़ाई का ठिकरा बीजेपी पर फोड़ रही कांग्रेस

शिमला। पार्षदों की खरीद फरोख्त को कांग्रेस ने साजिश रची थी, इतना ही नहीं बीजेपी समर्थित पार्षदों को कांग्रेस ने मेयर और डिप्टी मेयर तक बनाने का प्रभोलन तक दिया है। बीजेपी के विधायक सुरेश भारद्वाज ने कहा कि कांग्रेस सरकार और संगठन अपनी लड़ाई का ठीकरा बीजेपी पर फोड़ रही है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस का बीजेपी पर खरीद-फरोख्त का आरोप सरासर गलत है, जबकि वास्तविकता यह है कि कांग्रेस ने बीजेपी पार्षदों को मेयर और चेयरमैन बनाने का प्रलोभन दिया था।

भारद्वाज ने कहा कि शिमला की जनता ने नगर निगम में बीजेपी को निर्णायक बहुमत दिया है और कांग्रेस को इससे समझ जाना चाहिए कि अब प्रदेश विधानसभा में क्या होने वाला है।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस के स्वाभिमानी लोग बीजेपी में आए हैं और उन्होंने देख लिया है कि कांग्रेस डूबता हुआ जहाज है। उन्होंने कहा कि अब कांग्रेस जो आरोप लगा रही है वह तथ्यों पर नहीं हैं। भारद्वाज ने कहा कि राज्य में कांग्रेस की सरकार है और सत्ता इनके पास है और इन्होंने तय रणनीति के तहत पहले चुनाव को स्थगित करने के हथकंडे अपनाए और इसमें राज्य निर्वाचन आयोग भी शामिल रहा।


उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कहने पर चुनाव आयुक्त ने गलत ढंग से वोट बनाए और फिर चुनाव स्थगित करवाए और बीजेपी को हाईकोर्ट जाना पड़ा और फिर कोर्ट के हस्तक्षेप से चुनाव हुए। बीजेपी नेता ने कहा कि चुनाव के बाद जब बीजेपी सत्ता में आई तो कांग्रेस सरकार ने बीजेपी पार्षदों को खरीदने का प्रयास किया और सत्ता का लालच दिया, लेकिन बीजेपी के पार्षद तो उनकी तरफ नहीं गए,

बल्कि कांग्रेस के पार्षद ने बीजेपी ज्वाइन की और एक ने डिप्टी मेयर पर वोट बीजेपी को दिया। उन्होंने कहा कि सारे हथकंडे अपनाने के बाद भी जब कांग्रेस सरकार कुछ नहीं कर पाई तो उलटे बीजे पर खरीद-फरोख्त के आरोप लगाए। 

यह भी पढ़ें…हवाबाजी है BJP की रथयात्रा, Election आने दो सब पता चल जाएगा

जो सीटें हारे वह बहुत कम अंतर से…

भारद्वाज ने कहा कि शिमला शहर में जो सीटें बीजेपी हारी हैं वह बहुत कम अंतर से हारी है और जो जीती हैं वह सैकड़ों के मार्जन से जीती हैं। उन्होंने कहा कि शिमला नगर निगम के चुनाव में भारी जनमत बीजेपी को मिला है। उन्होंने कहा कि सीएम आज कह रहे हैं कि बीजेपी ने हार्स ट्रेडिंग की है। उनका यह आरोप गलत है। सरकार कांग्रेस के पास है और उसने ऑफर दिया था। किसी को मेयर का ऑफर दिया गया था। उनका कहना था कि कांग्रेस की अंदरूनी लड़ाई इतनी ज्यादा है और इससे बचने को बीजेपी पर अनाप-शनाप आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जनता ने बीजेपी को भारी जनमत दिया है और नगर निगम पर काबिज किया है।

पार्षदों को इसलिए सुरक्षित रखा ताकि कांग्रेस न उठा ले

बीजेपी विधायक ने कहा कि अब कांग्रेस जो आरोप लगा रही है वह तथ्यों पर आधारित नहीं है। उन्होंने कहा कि बीजेपी को अपने पार्षदों को सुरक्षित रखना पड़ा, क्योंकि कांग्रेस का इतिहास ऐसा रहा है कि वह इन्हें उठा भी सकती थी। क्योंकि 1998 में कांग्रेस ने ऐसा किया था, जब उनकी सरकार ने एक निर्दलीय विधायक को उठाया था और छह दिन की सरकार बनाई थी। आज राज्य में सरकार नाम की कोई चीज नहीं है और ऐसे में विधानसभा के चुनाव जल्द करवाए जाने चाहिए।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है