Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

मंत्री बोलेः CM पर कीचड़ उछालना सहन नहीं , बीजेपी का पलटवारः हम नहीं करते कीचड़ उछाल राजनीति

मंत्री बोलेः CM पर कीचड़ उछालना सहन नहीं , बीजेपी का पलटवारः हम नहीं करते कीचड़ उछाल राजनीति

- Advertisement -

bjp congress leader statement : शिमला। आय से अधिक संपत्ति मामले में दिल्ली हाईकोर्ट में सीएम वीरभद्र सिंह की याचिका खारिज होने व पटियाला हाउस कोर्ट में चार्जशीट दाखिल करने के बाद प्रदेश में सियासी पारा सुर्ख है। आरोपों-प्रत्यारोपों का दौर जारी है। आज एक तरफ जहां सरकार के मंत्रियों ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए दो टूक शब्दों में कहा कि सीएम वीरभद्र सिंह पर कीचड़ उछालना सहन नहीं होगा, वहीं बीजेपी ने पलटवार किया है। बीजेपी नेताओं ने कहा कि बीजेपी कीचड़ उछाल राजनीति में विश्वास नहीं रखती है। दिल्ली उच्च न्यायालय की टिप्प्णी के आधार पर बीजेपी द्वारा की जारी सीएम के इस्तीफे की मांग पर वीरभद्र सिंह के मंत्रियों ने बीजेपी पर निशाना साधा है। सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री विद्या स्टोक्स, ऊर्जा मंत्री सुजान सिंह पठानिया, वन मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी, उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री, शहरी विकास मंत्री सुधीर शर्मा तथा आबकारी एवं कराधान मंत्री प्रकाश चौधरी ने  निशाना साधते हुए कहा कि पूर्व में भी वीरभद्र सिंह के खिलाफ झूठा व राजनीति से प्रेरित सागर कत्था तथा सीडी मामले बनाए गए थे, परन्तु दोनों मामलों में न्यायालय द्वारा उन्हें निर्दोष ठहराया गया।

  • कहा, पहले भी बनाए थे झूठे केस पर न्यायालय से निर्दोष हुए साबित
  • भरोसाः इस बार भी वीरभद्र सिंह न्यायालय से बेदाग होकर निकलेंगे

उन्होंने कहा कि इस बार भी वीरभद्र सिंह न्यायालय से बेदाग होकर निकलेंगे। मंत्रियों ने कहा कि यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण व अलोकतांत्रिक है कि बीजेपी नेता अपने राजनीतिक लाभ के लिए उनकी बेदाग छवि को खराब करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी नेताओं की यह आदत ही बन गई है कि प्रदेश में जब-जब चुनाव आते हैं तो वे सीएम के खिलाफ एक के बाद-दूसरे मामले उठाते रहते हैं। वीरभद्र सिंह के खिलाफ कीचड़ उछालना सहन नहीं किया जाएगा, क्योंकि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है और अंत में सच्चाई की ही जीत होगी। आज यहां जारी एक संयुक्त वक्तव्य में उक्त मंत्रियों ने कहा कि इस्तीफा दिए जाने की बीजेपी नेताओं की मांग पूरी तरह से हास्यास्पद, अवांछित तथा अनुचित है।


पूर्व सीएम पर टिप्पणियों से कम नहीं होंगे गुनाह

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती, प्रदेश उपाध्यक्ष रणधीर शर्मा, पूर्व मंत्री व मुख्य प्रवक्ता डॉ. राजीव बिंदल, पूर्व मंत्री ठाकुर गुलाब सिंह, रविन्द्र सिंह रवि, किशन कपूर व नरेन्द्र बरागटा ने कहा कि सीएम अपनी आयु, पद और वरिष्ठता को ध्यान में रखकर अपनी भाषा पर संयम बरतें। विपक्षी नेताओं विशेषकर नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल की खिलाफ अनाप-शनाप टिप्पणियों से उनके गुनाह कम नहीं होंगे। भ्रष्टाचार से अर्जित संपत्ति से जो उन्होंने गुनाहों का भवन खड़ा किया है, उसके लिए उन्हें देर-सवेर सजा मिलनी निश्चित थी। ऐसे में उनके पास जरा सी भी नैतिकता बची है तो उन्हें तुरंत अपने पद से त्यागपत्र देकर प्रदेश में विधानसभा चुनाव करवाने चाहिए। बीजेपी कीचड़ उछाल राजनीति में विश्वास नहीं रखती है, पर सीएम अपने गुनाहों पर पर्दा डालने के लिए इस तरह की भाषा का प्रयोग करेंगे तो गुनाह तो कम नहीं होंगे परन्तु नुकसान सीएम को ही उठाना पड़ेगा।  प्रदेश की जनता इस भ्रष्ट नेतृत्व से त्रस्त है और कांग्रेस को इसका परिणाम भोरंज उपचुनाव में मिल भी जाएगा।

यह भी पढ़ेः Nadda बोले, Virbhadra Singh दें Resign, छोड़ें सार्वजनिक जीवन

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है