Covid-19 Update

57,210
मामले (हिमाचल)
55,797
मरीज ठीक हुए
961
मौत
10,668,332
मामले (भारत)
99,520,105
मामले (दुनिया)

BJP का तंजः हर दिन नया बयान, CM को अपनी सीट के भी लाले

BJP का तंजः हर दिन नया बयान, CM को अपनी सीट के भी लाले

- Advertisement -

शिमला। बीजेपी नेता व पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुरेश भारद्वाज ने सीएम वीरभद्र सिंह पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि अपने विधानसभा हलके को लेकर सीएम जिस तरह से हर दिन नया बयान दे रहे हैं, उससे लगता है कि उन्हें अपनी सीट के भी लाले पड़े हुए हैं। उनका कहना था कि कांग्रेस संगठन में कुछ भी ठीक नहीं लगता, क्योंकि जिस तरह से कांग्रेस में टिकट को लेकर खींचतान है, उससे लगता है कि विधानसभा चुनाव में टिकट को लेकर खूब लड़ाई होने वाली है। सुरेश भारद्वाज ने यहां मीडिया से अनौपचारिक मुलाकात में कहा कि वीरभद्र सिंह कभी कहते हैं कि शिमला ग्रमीण से उनके पुत्र विक्रमादित्य सिंह चुनाव लड़ेंगे और फिर कहने लगे कि वे विक्रमादित्य सिंह के लिए सीट की तलाश कर रहे हैं और कभी कहते हैं कि वे शहरी क्षेत्र में प्रचार को नहीं जा सकते।

  • सुरेश भारद्वाज बोले, कांग्रेस संगठन में कुछ भी ठीक नहीं लगता

उन्होंने आरोप लगाया कि हिमाचल में कांग्रेस कुछ नहीं हैं और यहां वीरभद्र सिंह की सबकुछ हैं और वे पीसीसी चीफ को भी नहीं मानते। कांग्रेस के पदाधिकारियों की भी वे नहीं सुनते और ऐसे में यह लगता है कि कांग्रेस में चुनाव के दौरान टिकट को लेकर खूब लड़ाई होने वाली है।  बीजेपी ने कहा कि राज्य में जब भी विधानसभा चुनाव होंगे, यहां से कांग्रेस का सफाया होगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता से आह्वान कर रखा है कि देश को कांग्रेस मुक्त बनाना है और हिमाचल में जब भी चुनाव होंगे, यह राज्य भी कांग्रेस मुक्त होगा।

37 हजार करोड़ का कर्ज, कैसे  होगा अच्छा बजट पेश

बीजेपी नेता व पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुरेश भारद्वाज ने कहा कि हिमाचल प्रदेश 37 हजार करोड़ रुपए के कर्ज में डूबा है। ऐसे में वीरभद्र सिंह कैसे अच्छा बजट पेश करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि सीएम वीरभद्र सिंह चुनाव के समीप आते ही रेवड़ियां बांटने लगे हैं। उनका कहना था कि जहां पटवारी की जरूरत नहीं हैं, वहां पर वीरभद्र सिंह तहसील खोल रहे हैं। जहां प्राइमरी स्कूल है वहां सीनियर सेकेंडरी स्कूल खोल रहे हैं। भले ही बाद में वह स्कूल बंद क्यों न करना पड़े। स्कूल में बच्चे न होने के कारण सरकार को फिर यह कदम उठाना पड़ रहा है। आज स्कूलों में लैब नहीं हैं, शिक्षक नहीं है, ऐसे में बिना स्टाफ के स्कूल खोलना सही नहीं है। उनका कहना था कि बीजेपी का मकसद सदन में हंगामा करना नहीं होता, लेकिन सीएम विधानसभा के सत्र से पहले ऐसी बयानबाजी कर देते हैं, जिससे माहौल खराब हो जाता है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सदस्य जनता से जुड़े मुद्दों के उठाते हैं और जब उन्हें सही जवाब नहीं मिलता तो उन्हें मजबूरन अपने हथियारों का प्रयोग करना पड़ता है। भारद्वाज ने कहा कि सीएम वीरभद्र सिंह विधानसभा सत्र से पहले खुद ही अनर्गल बात करते हैं और लगता है कि वह जानबूझकर ऐसा करते हैं।

जहां तक सदन चलाने बात है, यह तो बीजेपी ही चला रही है। पिछले 4 वर्ष में विधानसभा का रिकॉर्ड उठाकर देखा जाए, इससे पता चल पाएगा कि कांग्रेस नेता सदन में कुछ मुद्दे उठाते ही नहीं। वे तो केवल ट्रांसफर में ही व्यस्त रहते हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है