Expand

अगर सीएम मंडी, रेणुका जा सकते हैं तो हमीरपुर…

अगर सीएम मंडी, रेणुका जा सकते हैं तो हमीरपुर…

- Advertisement -

हमीरपुर। बीजेपी ने हमीर उत्सव और सोमभद्रा उत्सव में सीएम के न आने पर तलख टिप्पणी की है। बीजेपी नेताओं का कहना है कि अगर सीएम मंडी जा सकते हैं और शादी समारोह में शामिल हो सकते हैं और रेणुका जाकर उत्सव में शिरकत कर सकते हैं तो हमीरपुर व ऊना में क्यों नहीं। आज यहां जारी संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति में सुजानपुर के विधायक नरेंद्र ठाकुर, नादौन के विधायक विजय अग्निहोत्री, बड़सर के पूर्व विधायक बलदेव शर्मा एवं बीजेपी जिला अध्यक्ष अनिल ठाकुर ने इस बार के हमीर उत्सव को फीका करार देते हुए कहा है कि हमीर उत्सव में जिला की जनता को सीएम के आने की दरकार थी, किन्तु हमीरपुर का दौरा रद करके सीएम ने फिर से यह जता दिया की उनके दिल में हमीरपुर लोकसभा  के प्रति गहरी नफरत भरी है। 

  • cmबीजेपी ने हमीर उत्सव व सोमभद्रा उत्सव में न आने पर सीएम पर साधा निशाना
  • बीजेपी नेता बोले, हमीरपुर लोकसभा क्षेत्र के प्रति सीएम के दिल में भरी नफरत

ऊना के सोमभद्रा उत्सव में भी सीएम ने अपना दौरा रद कर दिया। ऐसा करके उन्होंने हमीरपुर लोकसभा क्षेत्र की जनता का दिल दुखाया है और उनकी उम्मीदों पर पानी फेरा है। हमीरपुर की जनता को आस थी कि सीएम जब हमीर उत्सव का उद्घाटन करने आएंगे तो हमीरपुर लोकसभा क्षेत्र के पिछड़े हुए विकास को शायद कुछ गति मिले, किन्तु ऐसा कुछ नहीं हुआ। सीएम का दौरा तो रद हुआ साथ में जो जनता हमीरपुर के विकास को लगे ग्रहण को दूर होता देखना चाहती थी वो भी मायूस होकर रह गई।

sudirसुधीर शर्मा भी नहीं आए

हमीर उत्सव के अंतिम दिन सुधीर शर्मा का आना प्रस्तावित था वो भी नहीं आए। शायद सुधीर शर्मा के दिल में यही बात थी कि हमीरपुर से छीन कर हिमुडा का सर्कल ऑफिस तो धर्मशाला ले गए अब क्या मुंह लेकर हमीरपुर की जनता के बीच जाऊंगा और क्या बताऊंगा की क्यूं हमीरपुर से हिमुडा का सर्कल दफ्तर छीनकर धर्मशाला लिया। वन मंत्री आए किन्तु हमीर उत्सव में गाना गया और ठुमके लगा कर हमीरपुर की जनता का मुंह चिड़ा कर चले गए।

  • चाहते तो वो ही बड़ी सौगातें सरकार की तरफ से हमीरपुर के लिए दे सकते थे पर ऐसा भी नहीं हुआ।
  • कांग्रेस के स्थानीय नेताओं ने हमीर उत्सव में अपनी हाजिरी तो दर्ज करवाई किन्तु हमीरपुर को सरकार की तरफ से कोई तोहफा न दिला पाए। अंततः हमीरपुर की जनता हाथ मलते हुए अब यह सोच रही है कि सदियों की परंपरा को भी कांग्रेस सरकार ने तोड़ दिया।

हमीर उत्सव का उद्घाटन हमेशा सीएम द्वारा ही किया जाता रहा है, किन्तु इस बार कांग्रेस सरकार ने ऐसा नहीं किया। साढ़े चार साल तक सरकार की उपेक्षा का शिकार हो रहे हमीरपुर को उमीद थी शायद इस बार चुनावी स्टंट के बहाने ही कुछ मिल जाता, वो भी नहीं हुआ। उल्टा हमीरपुर की जनता से उगाहे लाखों रुपए बर्बाद हो गए इस चीज का मलाल अन्दर ही अंदर हमीरपुर की जनता को हो रहा है। बीजेपी नेताओं ने कहा है कि सीएम का हमीरपुर लोकसभा के प्रति उपेक्षापूर्वक व्यवहार सहन नहीं किया जाएगा। हमीरपुर की जनता उचित समय पर इसका जवाब देगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है