×

Second [email protected] धूमल-सत्ती, आखिरकार थैले से बाहर आई बिल्ली

Second Capital@ धूमल-सत्ती, आखिरकार थैले से बाहर आई बिल्ली

- Advertisement -

शिमला। पूर्व सीएम व नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि आखिरकार बिल्ली थैले से बाहर आ ही गई। सीएम के बयान से स्पष्ट है कि धर्मशाला को प्रदेश की दूसरी राजधानी बनाने की घोषणा राजनीतिक स्टंट के अतिरिक्त और कुछ नहीं है। वह अपनी बातों से केवल कांगड़ा की जनता की भावना से खिलवाड़ ही कर रहे थे।


  • बीजेपी नेता बोले, बयानों और घोषणाओं से पलटना सीएम की पुरानी आदत पर मजाक नया शौक
  • व्यक्तिवाद, जातिवाद, क्षेत्रवाद की राजनीति करने वाले कांग्रेस के हाथों प्रदेश का विकास संभव नहीं

बीजेपी नेताओं ने कहा कि अपने बयानों और घोषणाओं से पलट जाना सीएम की पुरानी आदत है, परन्तु गंभीरतम मसलों पर जनता से मजाक करने की सीएम के नए शौक ने प्रदेश की शासकीय प्रणाली को ही देशभर में उपहास का विषय बना दिया है। मजाक ही मजाक में सीएम ने धर्मशाला को दूसरी राजधानी घोषित कर दिया और मजाक ही मजाक में दफ्तर शिफ्ट और अन्य बदलाव न करने की घोषणा कर दी है।

बीजेपी नेताओं ने कहा कि कांग्रेस सरकार का चार वर्ष का कार्यकाल जनता से मजाक करने में ही व्यतीत हो गया है। कर्मचारियों से 4-9-14 पर, युवाओं से बेरोजगारी भत्ते के नाम पर, नौकरियों में बैक डोर एन्ट्री व चिटों पर भर्तियां करके, बच्चों को वर्दिया न देकर व गृहणियों से सस्ते राशन के नाम पर केवल मजाक ही किया है। आने वाले विधान सभा चुनावों में कांग्रेस के साथ जनता जो मजाक करने वाली है, कांग्रेस शायद ही उससे उबर पाएगी। बीजेपी नेताओं ने कहा कि व्यक्तिवाद, जातिवाद और क्षेत्रवाद की राजनीति करने वाले कांग्रेस के हाथों प्रदेश का समान विकास संभव नहीं है। कांग्रेस केवल घोषणाओं और झूठे वादों की राजनीति करती है। पर बीजेपी अपने वादों को धरातल पर उतारने में विश्वास रखती है। यह बीजेपी की ही सरकार थी कि धर्मशाला में दो-2 सचिवालय खोले थे और हर सप्ताह एक मंत्री वहां बिठाया जाता था। इसके अतिरिक्त विकास के नाम पर उपर का हिमाचल व नीचे का हिमाचल की कांग्रेस की राजनीति को पूरी तरह खत्म करने का श्रेय भी बीजेपी को है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है