×

Maheshwar बोले, CM साहब, लावारिस पशु ले रहे लोगों की जान

Maheshwar बोले, CM साहब, लावारिस पशु ले रहे लोगों की जान

- Advertisement -

कुल्लू। भाजपा विधायक महेश्वर सिंह ने एक बार फिर से लावारिस पशुओं द्वारा किए जा रहे नुकसान के मामले पर सरकार पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा है कि सरकार बार-बार कहती रही है कि लोगों को लावारिस पशुओं से निजात दिलाने के लिए सरकार प्रयास कर रही है जबकि ऐसा नहीं है। प्रदेश सरकार के घोषणा पत्र में जंगली जानवरों द्वारा किए जाने वाले नुकसान से निजात दिलाने का वादा किया था  पर ऐसे नहीं हो पाया।


  • जंगली जानवरों से निजात दिलाने में सरकार नाकाम

उन्होंने कहा कि आज जंगली जानवरों में तेंदुए ,बाघ, बंदरों, कुत्तों व सड़कों पर घूम रहे पशुओं के कारण सैकड़ों लोगों की मौत हुई है। परन्तु इनसे निजात दिलाने के लिए सरकार की तरफ से लोगों की सुरक्षा के लिए किसी प्रकार के कोई पुख्ता प्रबंधन नहीं किया है।प्रदेश में लोगों का जीना कठिन हो गया है। महेश्वर सिंह ने कहा कि आए दिन जंगल से निकल कर जानवर लोगों पर हमला कर उन्हें घायल कर रहे हैं, कई लोगों की तो जान तक चली गई है। महेश्वर सिंह ने  कहा कि सरकार से आवारा कुत्तों के बारे में जब जानकारी मांगी गई सरकार ने उनकी संख्या 66 हजार बताई और जनवरी 2016 से लेकर नवंबर 2016 तक इन कुत्तों ने 44 हजार लोगों को काटा और इतने ही लोगों ने निजी अस्पतालों में इलाज करवाया।

उन्होंने कहा कि सरकार ने  द्वारा कुत्तों की नसबंदी के लिए किसी प्रकार का प्रावधान नहीं किया है। महेश्वर सिंह ने सवाल किया कि क्या बंदर डंडे से मारे जाते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार बंदूक की लाइसेंस फीस तीन साल के लिए जहां फीस 30 रुपए थी उसे 16 सौ रुपए कर दिया और  जब बदूंक का लाइसेंस के लिए जान हिफाजद के लिए मांगतें है तो किसी का नाम मांगा जाता है। ग्रामीणों को लाइसेंस फीस के लिए भी परेशान होना पड़ रहा है। महेश्वर सिंह ने कहा कि सीएम वीरभद्र सिंह सुबह से शाम तक घोषणा करते हैं और कहीं स्कूल,अस्पताल,तहसील निकालने की घोषणा कर रहे है परन्तु सरकार के पास स्टाफ ना होने से कई जगह पर एक-एक अधिकारी कर्मचारी बिठाए जाते हैं और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि कुल्लू जिले में अधिकतर घोषणाओं के शिलान्यास के बाद एक पत्थर भी नहीं लेगा है, जिससे सरकार की नाकामी लोगों के सामने है। विभिन्न विभागों में खाली पदों को भरने में नाकाम रही है और बेराजगारों युवाओं को बेरोजगारी भत्ता न देने पर विधानसभा चुनावों में युवा सरकार को सबक सिखाएंगे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है