Covid-19 Update

2,04,887
मामले (हिमाचल)
2,00,481
मरीज ठीक हुए
3,495
मौत
31,329,005
मामले (भारत)
193,701,849
मामले (दुनिया)
×

भावुक हुए जेपी नड्डा, बोले-कमाने के लिए बाहर तो जाना पड़ता है

भावुक हुए जेपी नड्डा, बोले-कमाने के लिए बाहर तो जाना पड़ता है

- Advertisement -

बिलासपुर। स्थानीय लुहणू मैदान में आयोजित अभिनंदन समारोह से बीजेपी के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा गदगद दिखे। साथ ही इस अवसर पर वह भावुक हो गए। लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि बेशक शारीरिक रूप से हिमाचल से बाहर हूं, लेकिन भावनात्मक रूप से आप लोगों से बाहर नहीं हूं, हमेशा आपके साथ रहूंगा। क्योंकि आपके साथ किए गए कार्यों और सुख व दुख में साथ खड़े रहने को भुलाया नहीं जा सकता। वैसे भी जब कुछ कमाना होता है, तो बाहर तो जाना ही पड़ता है। कोशिश की है कुछ कमाकर यहां लाऊं।

यह भी पढ़ें :- जेपी नड्डा के दौरे के विरोध में अनशन पर बैठे बंबर ठाकुर

 



बीजेपी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि इस समय दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी बीजेपी की देश के सत्रह राज्यों में सरकार है, जबकि महाराष्ट्र और हरियाणा राज्यों के विधानसभा चुनाव में भी निश्चित तौर पर रिकॉर्ड जीत दर्ज कर सरकार बनाएंगे। उन्होंने कहा कि देश व प्रदेश में जहां भी विकास देखता हूं उसके पीछे मुझे कमल नजर आता है। बड़ी जिम्मेदारी सौंपने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह संग केंद्रीय संसदीय बोर्ड का आभार व्यक्त उन्होंने कहा कि आप ईश्वर से प्रार्थना कीजिए कि मुझे इतनी शक्ति मिले जिससे इस चुनौतीपूर्ण जिम्मेदारी को बखूबी ढंग से निभा सकूं।

नड्डा ने कहा कि लोकसभा चुनाव में छोटे से पहाड़ी राज्य हिमाचल की चार सीटों पर 69 परसेंट वोटिंग के साथ दर्ज की गई रिकार्ड जीत देश भर में अव्वल आंकी गई है। उन्होंने कहा कि आज पार्टी बदल गई है। काम करने का तरीका भी बड़ा हो चुका है, लिहाजा इस बड़े को संभालकर रखना अब हमारी नैतिक जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि इस देश को एक ऐसा पीएम मिला है जो हॉस्टन जाता है और हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ स्वागत के लिए उमड़ती है, जिस पर अमेरिका का राष्ट्रपति भी मंच से बोलता है कि ऐसा तो कभी मैंने देखा ही नहीं।

मोदी सरकार की उपब्धियां गिनाते हुए उन्होंने ट्रिप्पल तलाक को खत्म करने के अलावा किसान सम्मान निधि योजना, उज्जवला योजना, खुदरा व्यापारियों के लिए पेंशन योजना और अन्य कई योजनाओं का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि आयुष्मान योजना के तहत देश के 46 लोगों के निशुल्क ईलाज पर साठ हजार से ज्यादा बजट खर्च किया जा चुका है। अब तो वल्र्ड असेंबली में भी इस योजना को दुनिया के देशों को अपने यहां अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया जाने लगा है।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है