Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

MC Election : प्रचार के अंतिम दिन झोंक दी पूरी ताकत

MC Election : प्रचार के अंतिम दिन झोंक दी पूरी ताकत

- Advertisement -

MC Election : शिमला। नगर निगम चुनावों को लेकर आज प्रचार के आखिरी दिन बीजेपी ने पूरी ताकत झोंक दी। पूर्व सीएम प्रेमकुमार धूमल और बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती ने बीजेपी समर्थित उम्मीदवारों के पक्ष में जोरशोर से प्रचार किया। प्रचार के दौरान विधायक सुरेश भारद्वाज,पूर्व मंत्री डॉ. राजीव बिंदल, बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष गणेश दत्त, पूर्व विधायक बलदेव शर्मा और बीजेपी समर्थित प्रत्याशीमौजूद रहे।

MC Election : बीजेपी शिमला शहर में करेगी विकास कार्य

धूमल ने लोअर बाजार में रोड शो कर बीजेपी समर्थित उम्मीदवार नवीन सूद के पक्ष में तथा कृष्णानगर में बिट्टू पाना, टुटू में विवेक शर्मा व मझाठ में शिवराम भारद्वाज की संयुक्त नुक्कड़ सभा व ढली में कमलेश मैहता के पक्ष में मतदान करने की अपील की। धूमल ने कहा कि केंद्र में बीजेपी की सरकार है और शीघ्र ही प्रदेश में भी बीजेपी की सरकार होगी इसलिए नगर निगम में बीजेपी समर्थित प्रत्याशियों को जीताकर नगर निगम पहुंचाए। उन्होंने कहा कि अभी हम आपसे वोट मांगने आए हैं, शिमला नगर निगम को बीजेपी को सौंपकर देखिए हम आपको विकास करके भी दिखाएंगे तथा स्थानीय जनता की मूलभूत सुविधाओं को भी पूरा करके दिखाएंगे।


MC Election : शिमला की जनता मूलभूत सुविधाओं से वंचित

वहीं बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती ने बालूगंज, समरहिल, कैंथू, अनाडेल और नाभा में बीजेपी समर्थित उम्मीदवार के पक्ष में प्रचार किया। बालूगंज वार्ड के चक्कर में जनसभा को संबोधित करते हुए सत्ती ने कहा कि पिछले 31 वर्षों से शिमला नगर निगम पर कांग्रेस व वामपंथियों का शासन रहा है लेकिन शिमला की जनता आज तक मूलभूत सुविधाओं से वंचित रही। पानी जो आम आदमी की मुख्य जरूरत है, से शिमला की जनता वंचित है। जहां सप्ताह में एक बार ही पानी आता हो, वहां की जनता पानी के बिना कैसे रहती होगी, यह बड़ी चिंता का विषय है।

MC Election : सत्ती बोले, वामपंथियों ने शहर में नहीं करवाए कोई विकास कार्य

सत्ती ने कहा कि पिछले 5 सालों में वामपंथियों ने शिमला शहर में कोई विकास कार्य नहीं करवाए। आज शहर में पानी, सीवरेज, पार्किंग, ट्रैफिक जाम जैसी अनेकों समस्याएं है जिनकी ओर न वामपंथियों ने कोई ध्यान दिया और न ही प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने इसके लिए कोई ठोस कदम उठाए। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष शिमला में भयंकर पीलिया रोग फैला जिसके कारण 32 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा और हजारों लोग इस पीलिया रोग की चपेट में आए। वामपंथी शासित नगर निगम लोगों को सीवरेजयुक्त पानी पिलाता रहा और मेयर और डिप्टी मेयर विदेश यात्राओं में मस्त रहे।

यह भी पढ़ें : चुनावी दौरः Congress का 24 घंटे साफ पानी देने का वादा

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है