Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

राहुल के बयान पर बीजेपी का जवाब: उन्‍हें ‘झूठ ऑफ द ईयर’ का अवार्ड मिलना चाहिए

राहुल के बयान पर बीजेपी का जवाब: उन्‍हें ‘झूठ ऑफ द ईयर’ का अवार्ड मिलना चाहिए

- Advertisement -

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के बयान पर बीजेपी ने पलटवार किया है। दरअसल राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एनआरसी (नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीज़न) और एनपीआर (नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर) को हिंदुस्तान की गरीब जनता पर लगाया गया टैक्स बताते हुए कहा था कि चाहे एनआरसी हो या एनपीआर हो, यह हिंदुस्तान के गरीब लोगों पर एक टैक्स है। जिसके जवाब में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javdekar) ने कहा कि टैक्स कल्चर (TAX Culture) कांग्रेस की देन है। वहां पर कई तरह के टैक्स हैं। जैसे-जयंती टैक्स, कोयला टैक्स, 2G टैक्स, जीजा जी टैक्स।

जावड़ेकर ने राहुल के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि आज राहुल गांधी ने कहा कि NPR गरीब पर TAX है। अब जरा ये बताइए कि NPR तो जनसंख्या रजिस्टर है, लोगों की जानकारी जो लोग देते हैं वो इसमें इकट्ठा करके रखते हैं, इसमें TAX कहां से आया। उन्होंने आगे कहा कि राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष थे तब भी और नहीं है तब भी लगातार झूठ बोलते हैं। 2019 का झूठ ऑफ द ईयर राहुल गांधी को मिल सकता है। आज उन्होंने NPR को गरीब पर टैक्स बताया। केन्द्रीय मंत्री ने आगे कहा कि मोदीजी ने आधार को लागू किया और इससे डीबीटी आया। 9 लाख करोड़ सीधा जनता के खाते में गया। ग्रामीण लोगों को फायदा हुआ। राजीव गांधी 100 रुपये में से 15 रुपया गरीब को मिलने की बात करते थे जबकि आज 100 के 100 रुपये मिलते हैं। कांग्रेस गांधी जी के समय अलग थी। अवैध घुसपैठियों को बढ़ावा देना कांग्रेस का काम है। क्योंकि वे इसे वोट बैंक से देखते हैं। यह असम के पूर्व सांसद कह रहे हैं। हम कांग्रेस से पूछना चाहते है कि कांग्रेस का कल्चर क्या है?


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है