Covid-19 Update

1,99,430
मामले (हिमाचल)
1,92,256
मरीज ठीक हुए
3,398
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

सत्ती ने अनिल को घेरा-बोले, कार्यकर्ताओं की मेहनत पर सवाल उठाने का नहीं अधिकार

सत्ती ने अनिल को घेरा-बोले, कार्यकर्ताओं की मेहनत पर सवाल उठाने का नहीं अधिकार

- Advertisement -

ऊना। बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष अध्यक्ष सतपाल सत्ती (BJP state president Satpal Satti) ने नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) और सुखराम परिवार (Sukhram Family) पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने सिद्धू और सुखराम परिवार के बार-बार स्टैंड बदलने की जमकर आलोचना की। उन्होंने कांग्रेस (Congress) टिकट पर चुनाव लड़े आश्रय शर्मा के पिता और अपने ही पूर्व मंत्री अनिल शर्मा (Anil Sharma) द्वारा सर्वे के आधार पर कांग्रेस (Congress) कार्यकर्ताओं की मेहनत पर सवाल उठाने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कांग्रेस (Congress) के कार्यकर्ताओं ने भी अपनी पार्टी और उम्मीदवार के लिए मेहनत की होगी। इसलिए अनिल शर्मा (Anil Sharma) को कांग्रेस (Congress) कार्यकर्ताओं की मेहनत पर प्रश्न खड़े करने का कोई अधिकार नहीं है। सतपाल सत्ती (Satpal Satti) ने तंज भरे लहजे में यहां तक भी कहा कि जिस परिवार का कोई स्टैंड ही नहीं है, उसके लिए आखिर क्यों कोई मेहनत करे। अनिल शर्मा (Anil Sharma) द्वारा एग्जिट पोल (Exit poll) के परिणाम का गुस्सा कांग्रेस (Congress) कार्यकर्ताओं पर उतारे जाने का भी दावा किया।

यह भी पढ़ेंः आश्रय शर्मा का आरोप-सराज में बीजेपी ने की बूथ कैप्चरिंग


सत्ती ने नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के बार-बार बदलते स्टैंड का हवाला देते हुए सिद्धू को कांग्रेस (Congress) और देश दोनों की राजनीति के लिए हानिकारक बताया। उन्होंने कांग्रेस को सिद्धू से जल्द पीछा छुड़ाने की नसीहत देते हुए कहा कि जितनी जल्दी सिद्धू से कांग्रेस पीछा छुड़ाएगी, उतना ही उसके लिए अच्छा होगा। सतपाल सत्ती ने बीजेपी (BJP) छोड़कर सिद्धू द्वारा आत्महत्या किए जाने का भी दावा किया। हिमाचल बीजेपी (BJP) अध्यक्ष ने सिद्धू की भाषा के बहाने कांग्रेस पर भी प्रहार किया और भाषा पर संस्थान के संस्कारों का प्रभाव होने की भी बात कही। अपनी बात के पक्ष में सत्ती ने बीजेपी (BJP) में रहते हुए सिद्धू के राष्ट्रवाद की बात किए जाने का हवाला भी दिया।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है