Covid-19 Update

59,065
मामले (हिमाचल)
57,507
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,210,799
मामले (भारत)
117,078,869
मामले (दुनिया)

Kerala में हिंदुओं की हत्या, Shimla प्रदर्शन में Dhumal भी शामिल

Kerala में हिंदुओं की हत्या, Shimla  प्रदर्शन में Dhumal भी शामिल

- Advertisement -

शिमला। केरल में नागरिकों की कथित हत्याओं के विरोध में बीजेपी और संघ ने मिलकर शिमला में धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान बीजेपी नेताओं ने केरल की माकपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और आरोप लगाया कि केरल की माकपा सरकार के संरक्षण में राष्ट्रवादी नागरिकों की श्रृंखलाबद्ध हत्याएं की जा रही हैं और वहां पर कानून व्यवस्था पूरी तरह से ठप है। प्रदर्शन के बाद बीजेपी नेता राजभवन पहुंचे और वहां पूर्व सीएम प्रेमकुमार धूमल की अगुवाई में राज्यपाल आचार्य देवव्रत के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा।

  • बीजेपी ने राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन, केरल सरकार की बर्खास्तगी को उठाई आवाज

इसमें राष्ट्रपति से मांग की गई है कि केरल की माकपा सरकार को बर्खास्त किया जाए। इससे पहले मानवाधिकार रक्षा मंच के बैनर तले किए गए इस धरना प्रदर्शन में नेता प्रतिपक्ष प्रेमकुमार धूमल, बीजेपी के विधायक, पदाधिकारी, एबीवीपी के कार्यकर्ता, बीजेवाईएम कार्यकर्ता और संघ कार्यकर्ता शरीक हुए। इस विरोध प्रदर्शन को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल ने केंद्र सरकार से मांग की कि केरल की वामपंथी सरकार को तुरंत प्रभाव से बर्खास्त किया जाए। उन्होंने कहा कि केरल में राष्ट्रपति शासन लगाया जाए और वहां स्थिति के सामान्य होने के बाद नए सिरे से चुनाव करवाए जाएं। धूमल ने कहा कि केरल में संघ की शाखा लगाने वाले नागरिकों को वहां की मार्क्सवादी सरकार ने निशाने पर ले रखा है और उन्हें मारपीट कर आम लोगों में दहशत फैलाई जा रही है। उन्होंने कहा कि देश में जहां-जहां भी मार्क्सवादियों की सरकारें रही हैं, वहां पर हिंसक वारदातें हो रही हैं। ऐसे में अब समय आ गया है कि देश के इन राष्ट्रविरोधी तत्वों के खिलाफ एक हो जाएं। उनका कहना था कि मार्क्सवादी देश को खंड-खंड कर देना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि जहां जन साधारम का जीवन सुरक्षित नहीं है, वहां की सरकार को बर्खास्त करना ही सही कदम है। इस दौरान अन्य वक्ताओं ने कहा कि केरल में जब से माकपा सरकार सत्तासीन हुई है, वहां पर तभी से राष्ट्रवादी नागरिकों की हत्याएं हो रही हैं।

मई 2016 से अब तक केरल में 284 लोगों की नृशंस हत्या हुई है और इनमें से 200 से अधिक वारदातों में माकपा के लोग नामजद किए गए हैं। वक्ताओं ने कहा कि माकपा के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं, मुस्लिम लीग, माकपा छोड़कर जाने वाले और अन्य कार्यकर्ताओं को भी नहीं बख्शा जा रहा। प्रदर्शन के बाद सभी नेताओं ने डीसी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा और केरल की सरकार को बर्खास्त करने की मांग की। पूर्व सीएम ने शिमला नगर निगम को भी इस दौरान आड़े हाथों में लिया। उन्होंने कहा कि माकपा जहां-जहां भी काबिज है, उन्हें वहां की सत्ता से हटाना होगा। उन्होंने कहा कि शिमला नगर निगम में भी माकपा के लोग काबिज हैं और उनका भी यहां से सफाया करना होगा। उन्होंने कहा कि शिमला में भी माकपा हिंसा में शामिल रही है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे आने वाले नगर निगम चुनाव में माकपा का यहां से सफाया करें।

Watch Video:

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है