Covid-19 Update

58,800
मामले (हिमाचल)
57,367
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,137,922
मामले (भारत)
115,172,098
मामले (दुनिया)

रामलाल@ BJP में कांग्रेसी आए तो कुर्बानी देने को रहें तैयार

रामलाल@ BJP में कांग्रेसी आए तो कुर्बानी देने को रहें तैयार

- Advertisement -

बीजेपी में चर्चा, कौन कांग्रेसी आना चाहते हैं बीजेपी में

शिमला। बिहार, गुजरात, उत्तर प्रदेश में मचाई गई उथल-पुथल के बाद अब बीजेपी का निशाना हिमाचल हो सकता है। बीजेपी का मकसद केवल और केवल सत्ता पर काबिज होना है और वह एक बार के लिए नहीं बल्कि, बार-बार सत्ता पर आना है। बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) रामलाल के रविवार के भाषण की पड़ताल करें तो यही बात उभर कर निकलती है कि बीजेपी बहुत जल्द आपरेशन हिमाचल भी शुरू कर सकती है। इसके लिए रामलाल ने प्रदेश बीजेपी के नेताओं को सचेत कर दिया है।

रामलाल का कहना था कि यदि वे हिमाचल में भगवा देखना चाहते हैं तो उसके लिए कुछ को कुर्बानी भी देनी पड़ सकती है। यानी कल को यदि कांग्रेस से कुछ बड़े नेता बीजेपी में आते हैं तो उस सूरत में कुछ बीजेपी नेताओं को अपनी सीट तक गंवानी पड़ सकती है। ऐसे में कांग्रेस से ज्यादा चर्चा अब बीजेपी में है कि आखिर वे कौन कांग्रेसी नेता हैं जो बीजेपी में आकर उनके लिए ही परेशानी कर सकते हैं। 

अपने-अपने स्तर पर लगा रहे आकलन

बताते हैं कि रामलाल ने  बीजेपी की राज्य कार्यसमिति की बैठक में उपस्थित सदस्यों से कहा था कि गुजरात में कांग्रेस के कुछ विधायक बीजेपी में शामिल हुए हैं और यह कैसा अनुभव है। सभी ने एक स्वर से कहा कि अच्छा है। फिर रामलाल ने पूछा कि यदि हिमाचल में भी कुछ ऐसे लोग बीजेपी में आए तो कैसा लगेगा।

इस पर बैठक में खामोशी छा गई। इसके बाद राम लाल बोले कि हिमाचल और कर्नाटक में भगवा फहराना है और यदि इसके लिए हिमाचल में भी दो-चार को त्याग करना पड़े तो उसके लिए तैयार रहना चाहिए। रामलाल के इस कथन के बाद बीजेपी नेताओं में अब चर्चा शुरू हो गई है कि कांग्रेस के कौन-कौन नेता बीजेपी में आ सकते हैं। नेता अपने-अपने स्तर पर आकलन कर रहे हैं, लेकिन कौन नेता या कार्यकर्ता बीजेपी में शामिल होने को संपर्क में है, उसके लिए लगता है कुछ इंतजार करना होगा।

बताते हैं कि बीजेपी का मकसद देश को कांग्रेस मुक्त करना है और उसके लिए संगठन में आने वालों का पार्टी स्वागत कर कर रही है और जो नहीं आ रहे, उन्हें चुनाव के जरिए  सत्ता से बाहर किया जा रहा है। रामलाल ने बीजेपी नेताओं से कहा है कि वे इस तरह से कार्य करें कि यहां पर लंबे समय के लिए स्थापित हो जाना है। यानी जब भी चुनाव हो, बीजेपी ही सत्ता में आए और इसके माध्यम से जनता की सेवा की जाए। इसके लिए बीजेपी को 50 फीसदी मत लेन का टारगेट लेकर चलना है। यदि 50 फीसदी मत बीजेपी को मिलते हैं तो कांग्रेस अपनेआप बाहर हो जाएगी, यानी हिमाचल भी कांग्रेस मुक्त हो जाएगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है