Covid-19 Update

2,27,354
मामले (हिमाचल)
2,22,669
मरीज ठीक हुए
3,833
मौत
34,606,541
मामले (भारत)
264,096,760
मामले (दुनिया)

कृषि कानूनों का विरोध : अब 100 रुपए लीटर दूध बेचेंगे किसान, BKU ने किया ऐलान

सिंघु बार्डर पर संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारियों ने दूध के रेट बढ़ाने को कहा

कृषि कानूनों का विरोध : अब 100 रुपए लीटर दूध बेचेंगे किसान, BKU ने किया ऐलान

- Advertisement -

नई दिल्ली। कृषि कानूनों (Agricultural Laws) को लेकर विरोध प्रदर्शन की धार कुंद पड़ने लगी है। पहले जहां पंजाब (Punjab) से कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन का नेतृत्व किया जा रहा था तो ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हुई हिंसा (Delhi Violence) के बाद यह आंदोलन का सारा मोमेंटम यूपी और राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) की तरफ शिफ्ट हो गया। बीकेयू (BKU) नेता राकेश टिकैत ने जहां संसद के पार्क में ट्रैक्टर चलाने की बात कही है तो वहीं अब कृषि कानूनों के खिलाफ और पेट्रोल (Petrol Price) की बढ़ती कीमतों को लेकर भी मोर्चा खोला जा रहा है। सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर बीकेयू ने ऐलान किया है कि अब दूध (Milk Price) भी दोगुने दाम पर बेचा जाएगा। यानी जो दूध 50 रुपए लीटर बिकता था उसे अब दोगुने 100 रुपए लीटर के हिसाब से बेचा जाएगा।

यह भी पढ़ें :-शबनम नहीं खा रही खाना, पढ़ें भारत की पहली सजा-ए-मौत पाने वाली महिला के कत्ल की कहानी

दरअसल सिंघु बार्डर पर कृषि कानूनों के विरोध में बैठे संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारियों ने दूध के रेट बढ़ाने का ऐलान किया है। भारतीय किसान यूनियन के जिला प्रधान मलकीत सिंह ने बताया कि पहली मार्च से किसान दूध के दामों में बढ़ोतरी करेंगे। ऐसे में दूध 50 रुपये लीटर की जगह अब दोगुनी कीमत यानी 100 रुपए लीटर बेचेंगे। बीकेयू के जिला प्रधान मलकीत सिंह का कहना है कि केंद्र सरकार ने डीजल के दाम बढ़ाकर किसानों को घेरने की कोशिश की है। अब संयुक्त किसान मोर्चा ने भी दूध के दाम दोगुने करने का फैसला ले लिया है। उन्होंने कहा कि फिर केंद्र सरकार फिर भी नहीं मानती है तो हम सब्जियों के दामों में भी वृद्धि करेंगे।

दिल्ली के सभी 90 रास्ते बंद करने की चेतावनी

इसके अलावा प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली के सभी रास्ते बंद करने की धमकी भी दी है। बाहरी दिल्ली के टीकरी बॉर्डर प्रदर्शनकारी निहंग सिख जुटे हुए हैं। निहंग सिखों का कहना है कि अभी सिर्फ दिल्ली के चार रास्ते ही बंद किए गए हैं, लेकिन सरकार नहीं मानती तो अब दिल्ली के सभी रास्ते भी बंद कर दिए जाएंगे। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि इसी के साथ दिल्ली में दूध-सब्जी की आपूर्ति भी बंद की जाएगी। प्रदर्शनकारियों ने चेतावनी दी है कि तीनों कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया गया तो अब दिल्ली के सभी 90 रास्तों को बंद कर दिया जाएगा। बताया जा रहा है कि निहंग सिखों ने मंच से ये ऐलान किया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है