×

CSD कैंटीन में कालाबाजारीः समान ले जाते हुए एक काबू

CSD कैंटीन में कालाबाजारीः समान ले जाते हुए एक काबू

- Advertisement -

रेवाड़ी। सैनिक व पूर्व सैनिकों के लिए रेवाड़ी में खोली गई चिंकारा कैंटीन में सस्ते दाम पर मिलने वाले सामान की जमकर कालाबाजारी का मामला सामने आया है। गुरुवार सुबह पुलिस ने चिंकारा कैंटीन के सामान के साथ ऐसे ही एक शख्स को काबू किया है, जो कैंटीन के अधिकारियों के साथ मिलीभगत करके सामान को बाहर बेचने के लिए ले जा रहा था। हालांकि कैंटीन मैनेजर उन पर लगे सभी आरोपों को सिरे से नकारते हुए मामले की जांच कराने की बात कह रहे है। हालांकि इस तरह के मामलों को लेकर पहले भी यह कैंटीन सुर्खियों में रह चुकी है। रेवाड़ी के गोपालदेव चौक स्थित सैनिक व पूर्व सैनिकों के लिए सस्ता सामान मुहैया कराने के लिए खोली गई चिंकारा कैंटीन में गोलमाल होने का मामला उस वक्त सामने आया है, जब पुलिस ने एक शख्स के पास से भारी मात्रा में कैंटीन से मिलने वाला सामान बरामद किया।


  • मौके से हजारों रूपए का सामान बरामद, जांच में जुटी पुलिस

दरअसल, पुलिस को सूचना मिली थी कि सैनिकों की कैंटीन से कोई शख्स अवैध रूप से भारी मात्रा में घरेलू सामान लेकर जा रहा है। इस पर कार्रवाई करते हुए मौके पर पहुंची पुलिस ने सामान सहित एक शख्स को काबू कर लिया। प्रत्यक्षदर्शियों व कैंटीन में सामान लेने के लिए आने वाले पूर्व सैनिकों का आरोप है कि कैंटीन में भारी भ्रष्टाचार है। इस मामले पर कैंटीन के मैनेजर का कहना है कि वे इस मामले की जांच कराएंगे और जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। वही पुलिस का कहना है कि उन्होंने पकड़ा गया सामान कब्जे में लिया है। अभी लोगों से पूछताछ की जा रही है कि अखिर यह समान उनके पास कहां से आया है। बहरहाल इस पूरे मामले में पुलिस जांच के बाद ही कुछ कहने की बात कह रही है, लेकिन एक बात तो साफ है कि सैंनिकों के लिए सस्ते दाम पर मिलने वाले सामान कर्मचारी और अधिकारी मिलकर अवैध रूप से बाहर बेचकर अपनी जेबें गर्म कर रहे हैं।

अब देखना यह होगा कि इस मामले में प्रशासन द्वारा दोषी अधिकारी और कर्मचारियों के खिलाफ कोई कार्यवाही अमल में लाई जाएगी या फिर इस मामले को यूं ही ठंडे बस्ते में डाल दिया जाएगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है