Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,396,300
मामले (भारत)
194,663,924
मामले (दुनिया)
×

बडगाम हेलीकॉप्टर क्रैश में हरियाणा का एक और जांबाज शहीद, आज लाया जा रहा है पार्थिव शरीर

बडगाम हेलीकॉप्टर क्रैश में हरियाणा का एक और जांबाज शहीद, आज लाया जा रहा है पार्थिव शरीर

- Advertisement -

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के बडगाम में क्रैश हुए हेलीकॉप्टर के पायलट स्क्वॉर्डन लीडर सिद्धार्थ वशिष्ठ के रूप में हरियाणा (Haryana) का एक और जांबाज शहीद हुआ है। उनका पार्थिव शरीर गुरूवार को एयरफोर्स (Air Force) के विमान से चंडीगढ़ लाया जाएगा। बुधवार को क्रैश हुए सेना के एमआई-17 हेलीकाप्टर में दो पायलट समेत सात लोगों की मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ें – राजस्थान के बीकानेर बॉर्डर पर दिखा ‘दुश्मन’ का ड्रोन, वॉर मेमोरियल बंद

 


3 दिन पहले छुट्टी रद्द कर गए थे श्रीनगर
154 हेलीकॉप्टर यूनिट के सिद्धार्थ के निधन की खबर उनके टीम मेंबर ने परिवार को दी। बॉर्डर पर बढ़े तनाव के चलते तीन दिन पहले ही स्क्वार्डन लीडर सिद्धार्थ वशिष्ठ अपनी छुट्टी रद‌्द कर श्रीनगर गए थे। सिद्धार्थ वशिष्ठ और उनकी पत्नी स्क्वार्डन लीडर आरती जुलाई महीने से श्रीनगर में पोस्टेड थे। जब बॉर्डर पर तनाव बढ़ा तो उस समय सिद्धार्थ दिल्ली (Delhi) में थे और उनकी पत्नी गुरुग्राम (Gurugram) में थी।

यह भी पढ़ें- भारत-पाक जंग से एक हफ्ते में जाएंगी 2 करोड़ से ज्यादा जानें, आधी दुनिया होगी तबाह

 

मामा की भी मिग क्रैश से हुई थी मौत
सिद्धार्थ के पिता जगदीश वशिष्ठ भी आर्मी (Army) से रिटायर्ड हैं। आखिरी बार उन्होंने सिद्धार्थ से सिर्फ 10 सेकेंड के लिए मंगलवार सुबह बात की थी। उनके पिता ने बताया कि वह सुबह से टीवी पर भारत-पाकिस्तान के बीच चल रहे तनावपूर्ण माहौल की खबरें देख रहे थे लेकिन उन्हें क्या पता था कि उनका बेटा भी ऐसे हादसे में जान गवां देगा। इससे पहले सिद्धार्थ के मामा वनीत भारद्वाज की 25 फरवरी 2002 को मिग क्रैश होने से मौत हो गई थी। उसी समय से सिद्धार्थ एयरफोर्स में जाना चाहते थे।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें.

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है