Covid-19 Update

12438
मामले (हिमाचल)
7843
मरीज ठीक हुए
125
मौत
55,23,917
मामले (भारत)
3,13,35,018
मामले (दुनिया)

गांधी जी ने सर्वोदय को जिया है

गांधी जी ने सर्वोदय को जिया है

- Advertisement -

सर्वोदय महात्मा गांधी के द्वारा प्रतिपादित एक ऐसा विचार है जिसमें सबके हित की भावना है। गांधी जी ने स्पष्ट कहा था, मैं अपने पीछे कोई पंथ या संप्रदाय नहीं छोड़ना चाहता । इसी लिए सर्वोदय आज एक समर्थ जीवन,समग्र जीवन और संपूर्ण जीवन का पर्याय बन चुका है। सर्वोदय के दो अर्थ हैं एक तो सबका उदय और दूसरा सब प्रकार से उदय। स्वतंत्रता से पूर्व स्वराज्य शब्द का जो महत्व था वही महत्व सर्वोदय शब्द का आज है। गौरतलब है कि गांधी जी ने 1936 में ही घोषणा कर दी थी कि गांधीवाद नाम की कोई चीज नहीं है। गांधी जी मूलतः एक प्रयोगकर्ता थे। सत्य एवं अहिंसा ही उनके जीवनका मूल लक्ष्य था। उन्होंने किसी नए तथ्य या सिद्धांत का आविष्कार नहीं किया। इसलिए गांधी विचार और उसपर आधारिक सर्वोदय विचार जीवन का पूरा-पूरा चित्र है.. वाद नहीं है।


  • भले ही गांधी जी ने अपने को किसी वाद से नहीं जोड़ा, लेकिन गांधी विचारदर्शन को गांधीवाद कहना ही उचित होगा। 
  • भले ही मानव समाज  के उत्थान के लिए कितनी ही कोशिशें की गईं  हों,पर सारी ही प्रवृत्तियां कुएं के मेंढक की तरह रह गईं। जो भी नियम बनाए गए उनका वैचारिक अधिष्ठान लुप्तप्राय हो चुका है।

वस्तुतः गांधी ने सर्वोदय को जिया है। उन्होंने भारतीय समाज में व्याप्त शोषण, उत्पीड़न, आर्थिक, सामाजिक विषमता पर प्रहार के साथ संयम और त्याग द्वारा संपूर्ण भारत को आलोकित किया। सर्वोदय कोई संप्रदाय नहीं,यह तो मानव एकता, सेवा तथा समरसता की भावना से परिपूर्ण समग्र दृष्टि है। जो पूरी तौर पर भारतीय चिंतन का पर्याय है। अन्याय का प्रतिकार ही गांधी जी के जीवन का लक्ष्य था। उन्होंने सबके अंदर परमात्मा का स्वरूप देखा वे भारतीय संस्कृति के माध्यम से पूरे विश्व को बदलने के लिए सत्य और अहिंसा को मुख्य अस्त्र-शस्त्र मानते थे। आज जो अमीर-गरीब की खाई बनी हुई है ,जिसमें मुट्ठी भर लोग सुख भोग रहे हैं  और बाकी जनता मजबूरी की जिंदगी जी रही है उसे गांधी के सर्वोदय दर्शन से ही सुलझाया जा सकता है। अगर ध्यान दें तो गांधी के लिए अर्थशास्त्र और नैतिकता एक ही सिक्के के दो पहलू हैं।

सर्वोदय विशुद्ध रूप से आर्थिक सिद्धांत है जिसका लक्ष्य हर तरह के विकास को समाज के आखिरी व्यक्ति तक पहुंचाना है। जबतक मात्र कुछ ही लोगों की सीमित समृद्धि साधन विहीनों तक नहीं पहुंचती तब तक किसी भी दौर में विकास के लक्ष्य को नहीं प्राप्त किया जा सकता।

साथ ही मनुष्य में नैतिकता भी होनी आवश्यक है । जरूरतें बढ़ाकर ऐसा भ्रष्ट समाज पैदा हो गया है जो अपने अस्तित्व को बरकरार रखने के लिएअपने आपको ही कुतरने लगा है। यह स्थिति समाप्त होनी चाहिए तभी महात्मा गांधी का सर्वोदय विचार सार्थक होगा।

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

यहां शादी के वक्त बेटी को दहेज में जहरीले सांप देता है पिता, जानिए इसके पीछे का रहस्य

हिमाचल में आज #Corona के जितने मामले, लगभग उतने ही हुए ठीक- आठ की मौत

Dalai Lama ने ताइवान के पूर्व राष्ट्रपति को करीबी दोस्त बताया, निधन पर जताया शोक

#Shimla : शादी, अंतिम संस्कार और सियासी कार्यक्रमों में शामिल हो सकेंगे इतने लोग

कुल्लू-मनाली में ब्यास के किनारे लगे नजारे, अठखेलियां करते नजर आ रहे Tourist

अब मात्र Spray से होगा मशरूम उत्पादन, ऊना के इस किसान ने तैयार किया Liquid Culture

Lok Sabha में गूंजा #Bollywood में यौन शोषण का मुद्दा, रवि किशन ने की कठोर कानून की मांग की

शादी के कार्ड पर लड़की ने मांगा Cash, गिफ्ट के आधार पर सेट किया खाने का Menu

New Pension Scheme Employees Union अब सरकार के खिलाफ करेगा आंदोलन

#Solan: आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के घर दबिश, चीनी, तेल व बिस्कुट बरामद- सील

पानी के तेज बहाव में बह गई 3 परिवारों की कई बीघा भूमि व मिट्टी में मिले पेड़

पूड़े के साथ पुदीने की चटनी व खीर खानी है तो Himachalके इस शहर का करना होगा रूख

Atal Tunnel में बीएसएनएल देगा Highspeed connectivity, उद्घाटन के साथ होगी शुरू

Shimla में रिज पर बने Water Tank की मरम्मत का काम शुरू ,2 माह लगेंगे दरारें भरने में

ये हैं दुनिया के 5 सबसे जानलेवा जीव: लिस्ट में शामिल है मक्खी और मच्छर का भी नाम, जानें

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board

#HPBose: SOS मैट्रिक व जमा दो कक्षाओं की प्रैक्टिकल परीक्षा की डेटशीट जारी

तकनीकी विवि में द्वितीय, चतुर्थ और छठे समेस्टर के छात्रों को किया जाएगा Promote

शिक्षकों-गैर शिक्षकों को स्कूल बुलाने के लिए Notification जारी, विभाग ने ये दिए निर्देश

#HPBose: बोर्ड की अनुपूरक परीक्षाओं से संबंधित जानकारी के लिए घुमाएं ये नंबर

D.El.Ed. CET -2020 की स्पोर्टस कोटे की काउंसिलिंग अब 17 को डाइट में होगी

#HPBose: बोर्ड ने D.El.Ed.CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग की तिथि की तय

#HPBose: हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट- जानिए

Himachal के सरकारी स्कूलों में नौवीं से 12वीं के #OnlineExam आज से शुरू

#HPBose: D.El.Ed. CET स्पोर्ट्स कैटेगरी की काउंसलिंग स्थगित- जाने कारण

#HPBose_ Dharamshala: बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट, वेबसाइट में देखें

बड़ी खबर: हिमाचल में सितंबर के बाद स्कूल खुलने के संकेत; छात्रों के #Syllabus को लेकर भी बड़ा फैसला

Himachal: तकनीकी शिक्षा बोर्ड विद्यार्थियों को अगली कक्षा में करेगा प्रमोट, इनकी होंगी परीक्षाएं

मार्च की 10वीं और 12वीं SOS की Practical परीक्षा में Absent छात्रों को विशेष अवसर

#HPBose: D.El.Ed. CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग की तिथियां घोषित

#HPBose: बड़ा फैसला- SOS के तहत जमा दो मेडिकल व नॉन मेडिकल की हो सकेगी पढ़ाई



×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है