×

विधानसभा में उठा BRICS Project का मुद्दा, सत्तापक्ष और विपक्ष आमने-सामने

विधानसभा में उठा BRICS Project का मुद्दा, सत्तापक्ष और विपक्ष आमने-सामने

- Advertisement -

लेखराज धरटा/शिमला। विधानसभा में बजट सत्र के दौरान ब्रिक्स प्रोजेक्ट (BRICS Project) का मुद्दा उठा। प्रदेश में IPH के लिए स्वीकृति ब्रिक्स प्रोजेक्ट पर सदन में सत्तापक्ष और विपक्ष आमने-सामने दिखा। ब्रिक्स के तहत प्रदेश को 3267 करोड़ का प्रोजेक्ट है। जिसमें पहले चरण में 698.92 करोड़ रुपए 22 स्कीमों पर खर्च किए जाने हैं। विधायक जगत सिंह नेगी द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने हालांकि पूरी जानकारी दी गई, लेकिन वे संतुष्ट नहीं हुए।


उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने ब्रिक्स परियोजना को लेकर बड़ी-बड़ी बाते की हैं, लेकिन धरातल पर कुछ नजर नहीं आ रहा है। अपने जवाब में मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि फेस वन में 22 स्कीमों पर 698.92 करोड़ रुपए खर्च होने हैं। इस प्रोजेक्ट को शुरू करने के लिए लंबा प्रोसेस है। इसके लिए प्रदेश सरकार ने अधिकांश औपचारिकताएं पूरी कर ली हैं। उन्होंने कहा कि डीपीआर भी तैयार हो चुकी है और जल्द ही टेंडर प्रक्रिया भी शुरू की जाएगी। आईपीएच मंत्री ने कहा कि पहले चरण में प्रदेश के 58 विधानसभा क्षेत्रों को चुना गया है। शेष क्षेत्रों को दूसरे चरण में शामिल करने का प्रस्ताव है। विकासात्मक परियोजनाओं पर हम किसी भी क्षेत्र से भेदभाव नहीं करते हैं।

यह भी पढ़ें :- बजट सत्रः सदन में गूंजा विधायकों की अनदेखी का मुद्दा, विपक्ष का वाकआउट

मंत्री ने कहा कि टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के बाद काम अवार्ड किए जाएंगे और उसके बाद बैंक के साथ एग्रीमेंट होगा। ब्रिक्स यानी ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका के तहत विदेशी निवेश से लोगों को पानी उपलब्ध करवाने के प्रोजेक्ट है। इस प्रोजेक्ट के तहत प्रथम चरण में धर्मशाला जोन के लिए 152.11 करोड़, हमीरपुर जोन को 234.22 करोड़, मंडी जोन को 211.24 करोड़ और शिमला जोन को 69.69 करोड़ रुपये का प्रावधान है।

 

इस बीच नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्रिहोत्री ने कहा कि ब्रिक्स परियोजना प्रदेश की वर्तमान सरकार को कांग्रेस ने तोहफा के रूप में दी है। उन्होंने कहा कि सरकार ने तोड़-मरोड़ कर धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र को हमीरपुर जोन में शामिल किया, जो सही नहीं हैं। मुकेश अग्रिहोत्री ने आरोप लगाया कि सरकार ने एक ही जिले में पांच करोड़ का आवंटन किया है। मुकेश के आरोपों पर वार करते हुए आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि जो काम 2016 में शुरू होना था उसे हमारी सरकार ने शुरू किया। उन्होंने कहा कि ब्रिक्स प्रोजेक्ट की पूरी जानकारी दूं तो पूरा प्रश्रकाल ही इसमें चला जाएगा। इसी सवाल पर भाजपा विधायक सुरेश कश्यप ने सरकार से पूछा कि कब तक डीपीआर तैयार होगी? जवाब में आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि डीपीआर लगभग तैयार हो चुकी है।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है